Top
Latest News
Home > देश > तेलंगाना एनकाउंटर की जांच सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज करेंगे

तेलंगाना एनकाउंटर की जांच सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज करेंगे

- चीफ जस्टिस एस ए बोब्डे ने 12 दिसम्बर तक पूर्व जज के नाम पर सुझाव मांगे - सुप्रीम कोर्ट में गुरुवार को भी इस मामले पर सुनवाई जारी रहेगी

तेलंगाना एनकाउंटर की जांच सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज करेंगे

नई दिल्ली। हैदराबाद एनकाउंटर की जांच पर चीफ जस्टिस एस ए बोब्डे ने बुधवार को प्रस्ताव दिया कि हैदराबाद एनकाउंटर की जांच सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज करेंगे। मामले से जुड़े पक्ष 12 दिसम्बर तक पूर्व जज के नाम पर सुझाव दें। मामले पर गुरुवार को भी सुनवाई जारी रहेगी। कल इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट आदेश पारित कर सकता है। सुनवाई के दौरान तेलंगाना सरकार ने कहा कि कोई भी आदेश देने से पहले सुन लीजिए, हमने अब तक क्या कदम उठाए हैं।

याचिका में मुठभेड़ में शामिल पुलिसवालों और कमिश्नर वीसी सज्जनार पर एफआईआर दर्ज कर निष्पक्ष जांच की मांग की गई है। याचिका में पुलिस की कार्रवाई को संदिग्ध और तय नियमों के खिलाफ बताया गया है। इस मामले में सुप्रीम कोर्ट में तीन याचिकाएं सुप्रीम कोर्ट के वकील प्रदीप कुमार यादव, जीएस मणि और वकील मनोहरलाल शर्मा ने दायर की हैं। याचिकाओं में पूरे मामले की जांच की मांग करने के साथ ही दोषी पुलिसवालों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग की गई है।

वकील मनोहरलाल शर्मा ने याचिका दायर कर मांग की है कि राज्यसभा सांसद संजय सिंह, जया बच्चन और दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल के बयानों से एनकाउंटर की कार्रवाई को बल मिला है। मनोहरलाल शर्मा ने मांग की है कि रेप के आरोपित को जब तक दोषी नहीं ठहरा दिया जाता, तब तक टीवी चैनल्स पर कोई कार्यक्रम या बहस चलाने पर रोक लगाने के लिए दिशा-निर्देश जारी किये जाएं।

वकील जीएस मणि और प्रदीप कुमार यादव ने अपनी याचिका में कहा है कि हैदराबाद एनकाउंटर में सुप्रीम कोर्ट के 2014 के आदेशों का अनुपालन नहीं किया गया। याचिका में हैदराबाद के पुलिस कमिश्नर वी सी सज्जनार के खिलाफ जांच की मांग की गई है। याचिका में कहा गया है कि पुलिस की कार्रवाई तय नियमों के खिलाफ है। याचिका में कहा गया है कि एनकाउंटर की निष्पक्ष जांच की जरूरत है।

महिला पशु चिकित्सक के साथ रेप और उसे जिन्दा जलाने के चार आरोपियों की 6 दिसम्बर को सुबह पुलिस एनकाउंटर में मौत हो गई थी। हैदराबाद पुलिस के मुताबिक चारों आरोपितों को सीन रिक्रिएट करने के लिए घटनास्थल पर ले जाया गया था जहां से चारों ने पुलिस से हथियार छीनकर फायरिंग करते हुए भागने की कोशिश की। हैदराबाद पुलिस के मुताबिक उसने आत्मरक्षा में चारों आरोपितों को मार गिराया।

Updated : 11 Dec 2019 10:05 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top