Top
Home > देश > सुपर-30 के आनंद पर छात्रों ने लगाया फर्जीवाड़े का आरोप

सुपर-30 के आनंद पर छात्रों ने लगाया फर्जीवाड़े का आरोप

2018 में आनंद कुमार ने 26 बच्चों के जेईई एडवांस में क्वालीफाई होने का किया दावा

सुपर-30 के आनंद पर छात्रों ने लगाया फर्जीवाड़े का आरोप

पटना। आईआईटी जेईई की परीक्षा में रिकॉर्ड सेलेक्शन देने वाले गणितज्ञ आनंद कुमार के खिलाफ अब 'सुपर-30Ó के बच्चों ने ही हल्लाबोल दिया है। वर्ष 2018 में आनंद कुमार ने सुपर-30 के 26 बच्चों के जेईई एडवांस में क्वालीफाई होने का दावा किया है। वहीं, छात्रों का आरोप है कि महज तीन छात्र ही जेईई-एडवांस में क्वालीफाई कर पाए हैं। आनंद कुमार की ओर से ओनीरजीत गोस्वामी, सूरज कुमार, यश कुमार और सूर्यकांत के नाम सार्वजनिक किए गए थे। इसमें सूरज कुमार कोटा स्थित एक कोचिंग संस्थान का छात्र है। विभिन्न कार्यक्रमों में सुपर-30 के विद्यार्थी के रूप में आनंद के साथ मौजूद गगन का कहना है कि इसमें ओनीरजीत ही सुपर-30 का छात्र है, अन्य तीन बच्चे जेईई मेन के बाद दूसरे कोचिंग संस्थान से आए थे। इन्हें स्कॉलरशिप के तौर पर मोटी रकम देने का आश्वासन दिया था। गगन के अनुसार सबसे अधिक ओनीरजीत को एडवांस में 128 अंक मिले थे जबकि कटऑफ 126 था। खराब रैंक के कारण ओनीरजीत का आईआईटी में नामांकन नहीं हो सका है। इसके अतिरिक्त अनुपम और गगन एससी कैटेगरी में पास हुए थे। इन दोनों का नाम आनंद कुमार ने सार्वजनिक नहीं किया है।

सुपर-30 को बदनाम करने की साजिश

आरोपों की बाबत आनंद कुमार ने कहा कि सुपर-30 को बदनाम करने की साजिश चल रही है। कुछ बच्चे जो पहले रामानुजम क्लासेज में पढ़ते थे, वे बेबुनियाद आरोप लगा रहे हैं। एडवांस में क्वालीफाई सभी 26 बच्चों के नाम जरूरत के अनुसार सार्वजनिक किए जाएंगे।

Updated : 2018-07-23T15:50:01+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top