Top
Home > देश > सामाजिक कार्यकर्ता पर बनी डॉक्यूमेंटरी के अधिकार यूट्यूब ने लिये वापस

सामाजिक कार्यकर्ता पर बनी डॉक्यूमेंटरी के अधिकार यूट्यूब ने लिये वापस

सामाजिक कार्यकर्ता पर बनी डॉक्यूमेंटरी के अधिकार यूट्यूब ने लिये वापस

नई दिल्ली। बाल अधिकारों के लिए लड़ने वाले सामाजिक कार्यकर्ता कैलाश सत्यार्थी पर बनी डॉक्यूमेंटरी के अधिकार गूगल की कंपनी यूट्यूब ने प्राप्त कर लिये हैं। करीब 90 मिनट की इस डॉक्यूमेंटरी को यूट्यूब पर उसके चैनल सोलपैनकेक के माध्यम 27 नवम्बर को जारी किया जाएगा।

यूट्यूब के मुताबिक यह डॉक्यूमेंटरी सनडांस फिल्म महोत्सव में यूएस डॉक्यूमेंटरी ग्रांड ज्यूरी का पुरस्कार जीत चुकी है। 'द प्राइज ऑफ फ्री' नामक इस डॉक्यूमेंटरी के डेरेक डोनीन निर्देशक और डेविस गगेनहीम निर्माता हैं। इसमें सत्यार्थी के जीवन और उनके दुनिया को बालश्रम से मुक्त कराने की दिशा में की गई रेड और खोज अभियान प्रदर्शित किए गए हैं।

यूट्यूब में ऑरिजनल सामग्री के वैश्विक प्रमुख सुसान डेनियल ने कहा, ''हम कैलाश सत्यार्थी और उनकी टीम द्वारा हर दिन किए जाने वाले अविश्वसनीय कार्यों से प्रेरित हैं।''

कैलाश सत्यार्थी 1980 से बचपन बचाओ आन्दोलन के माध्यम से विश्व भर के 144 देशों के 63 हजार से अधिक बच्चों के अधिकारों की रक्षा के लिए कार्य कर चुके हैं। उनके कार्यों को विभिन्न राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय सम्मानों व पुरस्कारों द्वारा सम्मानित किया गया है। इन पुरस्कारों में वर्ष 2014 का नोबेल शान्ति पुरस्कार भी शामिल है, जो उन्हें पाकिस्तान की नारी शिक्षा अधिकार कार्यकर्ता मलाला युसुफजई के साथ मिला था।

Updated : 2018-09-08T21:27:18+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top