Top
Home > देश > संशोधित भारतीय समाज ने भारत का नाम रौशन किया- प्रधानमंत्री मोदी

संशोधित भारतीय समाज ने भारत का नाम रौशन किया- प्रधानमंत्री मोदी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को अमेरिका में रह रहे पटेल समुदाय के लोगों से भारतीय पर्यटन को प्रोत्साहित करने का आग्रह किया।

संशोधित भारतीय समाज ने भारत का नाम रौशन किया- प्रधानमंत्री मोदी
X

संशोधित भारतीय समाज ने भारत का नाम रौशन किया- प्रधानमंत्री मोदी

नई दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को अमेरिका में रह रहे पटेल समुदाय के लोगों से भारतीय पर्यटन को प्रोत्साहित करने का आग्रह किया। अमेरिका स्थित सौराष्ट्र पटेल कल्चरल समाज के कैलीफोर्निया में आयोजित अन्तरराष्ट्रीय सम्मेलन को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए संबोधित करते हुए भारतीय प्रधानमंत्री ने कहा कि आप लोगों को 'होटल, मोटल पटेल वाला समाज' के नाम से जाना जाता है। इसलिए आप लोग भारतीयों के अलावा 5 विदेशी लोगों को प्रेरित करें कि वे भारत को देखने जाएं।

गुजराती भाषा में दिए गए संबोधन में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि यह हमारे लिए गर्व की बात है कि भारत के मिट्टी में जन्मे लोग जहां-जहां भी गए, वहां उन्होंने पीढ़ियों तक भारतीय संस्कृति की सुगंध फैलाने बहुत बड़ा योगदान दिया। मोदी ने कहा कि पिछले पांच-सात दशकों में भारत को अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर बदनाम करने के अनेक प्रयास हुए, इसके बावजूद यह दिखता है कि आतंकवाद के मोर्चे पर पूरी दुनिया भारत के साथ खड़ी है। यह उन सब भारतीय के परिश्रम का प्रतिफल है जो अनेक देशों में रह रहे हैं और वहां अपने कार्य और व्यवहार से भारत का नाम रौशन कर रहे हैं। वहां के स्थानीय समाज के लिए भारतीय समाज कभी समस्या नहीं बना।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज विश्व मानचित्र पर भारत की प्रतिष्ठा बढ़ रही है। अब लोगों को भी यह महसूस होने लगा है कि भारतीय पासपोर्ट की महत्ता बढ़ रही है। विश्व के अनेक देश भारत के साथ मजबूत संबंध जोड़ने को आतुर हैं। अन्तरराष्ट्रीय सौर गठबंधन की स्थापना और उसका मुख्यालय भारत में बनने को ऐतिहासिक उपलब्धि बताते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारतीय जीवन दर्शन में ही प्रकृति और पर्यावरण के संरक्षण के तत्व मौजूद हैं।

महात्मा गांधी का स्मरण करते हुए मोदी ने कहा कि उनका चिंतन और दर्शन विश्व भर के मानव मात्र के कल्याण का दर्शन है। इसे विश्व भर में पहुंचाने में कुछ कमी रह गई है। उनकी 150वीं जन्म जयन्ती पर हम भारतीयों का कर्तव्य है कि उनके विचार और दर्शन को विश्व के कोने-कोने तक पहुंचाएं। गांधी जी का चिंतन की विश्व की सभी समस्याओं का समाधान कर सकता है। उन्होंने भारतीय समाज से आग्रह किया कि उनकी नई पीढ़ी गांधी को जाने और वे विश्व से गांधी को परिचित कराएं।

सरदार पटेल को लौह पुरुष बताते हुए उन्होंने कहा कि उनके जैसा अब दूसरा कोई नहीं होगा। उन्होंने भारत को जोड़ने का काम किया। हमने वर्षों बाद भारत को आर्थिक रूप से एक करने के लिए, वन नेशन वन टैक्स की अवधारणा पर काम करते हुए जीएसटी लागू किया। शुरुआती कठिनाईयों के बावजूद आज यह कर प्रणाली जितनी सफलता से लागू है उससे विश्व भी आश्चर्य कर रहा है। भारत के उत्तरोत्तर विकास के लिए लाई गई अनेक योजनाओं की चर्चा करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि भले आप भारत में एक डॉलर भी निवेश न करें पर आप लोगों से कहें कि वे भारत को देखने जाएँ।





Updated : 2018-07-06T21:48:09+05:30

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top