Top
Home > देश > प्रकाश जावड़ेकर ने कहा - जियो इंस्टीट्यूट को उत्कृष्ट संस्थान का दर्जा नहीं

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा - जियो इंस्टीट्यूट को उत्कृष्ट संस्थान का दर्जा नहीं

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा - जियो इंस्टीट्यूट को उत्कृष्ट संस्थान का दर्जा नहीं

नई दिल्ली। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने गुरुवार को राज्यसभा को बताया कि प्रस्तावित जियो इंस्टीट्यूट को उत्कृष्ट संस्थान का दर्जा नहीं दिया गया है बल्कि विभिन्न शर्तो के साथ एक आशय पत्र जारी किया गया था। राज्यसभा में गुरुवार को राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (संशोधन) विधेयक-2017 पेश किया गया। लोकसभा इस विधेयक को सोमवार को ही ध्वनिमत से पारित कर चुकी है।

राज्यसभा में प्रश्न काल के दौरान एआईएडीएमके के सदस्य एसआर विजयकुमार द्वारा उठाए गए एक प्रश्न का जवाब देते हुए जावड़ेकर ने बयान दिया। उन्होंने सवाल किया था कि जिस संस्थान ने अभी काम करना भी शुरू नहीं किया है, उसे उत्कृष्ट संस्थान का दर्जा दिया गया है। क्या सरकार इस पर श्वेत पत्र लाएगी? भाकपा के डी राजा ने जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) और भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) चेन्नई को उत्कृष्ट संस्थानों की सूची में शामिल नहीं किये जाने पर सवाल उठाया।

जियो इंस्टीट्यूट के चयन के मापदंड के संबंध में जावड़ेकर ने कहा कि प्रस्तावित विश्वविद्यालयों की ग्रीन फील्ड श्रेणी के तहत विशेषज्ञ समिति को कुल 11 आवेदन मिले थे। समिति ने जांच के बाद जियो इंस्टीट्यूट का चयन किया और इंस्टीट्यूट को आशय पत्र देने की सिफारिश की थी। तीन साल बाद विश्वविद्यालय के अस्तित्व में आने पर इसकी समीक्षा की जाएगी। उन्होंने जेएनयू और आईआईटी चेन्नई को नहीं चुनने के जवाब में कहा कि संस्थानों के चयन का काम एक समिति ने किया और इसमें सरकार की कोई भूमिका नहीं थी।

Updated : 2018-07-27T02:36:51+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top