Top
Latest News
Home > देश > पुंछ की नियंत्रण रेखा पर एक बार फिर पाक ने किया संघर्ष विराम का उल्लंघन

पुंछ की नियंत्रण रेखा पर एक बार फिर पाक ने किया संघर्ष विराम का उल्लंघन

-कोई हताहत नहीं, भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई में सीमा पार की कई इमारतें ध्वस्त

पुंछ की नियंत्रण रेखा पर एक बार फिर पाक ने किया संघर्ष विराम का उल्लंघन

पुंछ (जम्मू कश्मीर)। पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। वह सीमा पार से घुसपैठ करवाने के इरादे से लगातार जम्मू-कश्मीर की नियंत्रण रेखा व अंतरराष्ट्रीय सीमा को निशाना बनाकर गोलीबारी कर रहा है। इसके चलते गुरुवार सुबह भी पाकिस्तान ने एक बार फिर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया है। आज पाकिस्तानी सेना पुंछ जिले की नियंत्रण रेखा पर स्थित मनकोट सेक्टर में भारी गोलाबारी कर रही है। भारतीय सेना भी पाकिस्तान की इस नापाक हरकत का करारा जवाब दे रही है।

गुरुवार सुबह एक बार फिर पाकिस्तानी सेना ने जिले के मनकोट सेक्टर में बसे रिहायशी मकानों को निशाना बनाकर गोले दागना शुरू कर दिए। इस दौरान पाकिस्तान सेना ने सेक्टर में स्थित भारतीय चौकियों पर भी भारी गोलीबारी की। भारतीय जवानों ने भी पाकिस्तान की गोलीबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया। दोनों तरफ से फिलहाल गोलीबारी जारी है और इस गोलीबारी में अभी तक किसी के हताहत होने की कोई सूचना नहीं है। फिर गोलीबारी शुरू होने से सीमांतवासी डरे हुए हैं और उन्होंने अपने घरों को छोड़ बंकरों में शराण ले ली है।

उल्लेखनीय है कि पाकिस्तानी सेना ने बाद बुधवार रात भी कुपवाड़ा जिले की नियंत्रण रेखा के करीब बसे इलाकों में स्थित भारतीय सैन्य व नागरिक ठिकानों पर गोलाबारी की थी। इससे चार मकान क्षतिग्रस्त हो गए थे। भारतीय जवानों की जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तान को भारी नुकसान हुआ था। देर रात तक दोनों तरफ से गोलीबारी जारी रही। इस दौरान भारत की ओर से की गई जवाबी कार्रवाई में सीमा पार कई इमारतें पूरी तरह तबाह हो गईं।

अंतरराष्ट्रीय सीमा पर कठुआ जिले के हीरानगर सेक्टर में पाकिस्तान ने मंगलवार रात को भी संघर्ष विराम का उल्लंघन किया था। पाकिस्तानी रेंजरों ने बीएसएफ की चौकियों और रिहायशी इलाकों छन्न लालदीन, ठगली आदि गांवों को निशाना बनाकर गोले दाग थे। हालांकि यहां कोई नुकसान नहीं हुआ है। पाकिस्तान गोलीबारी का यहां भी भारतीय जवानों ने मुहतोड़ जवाब दिया था।

Updated : 19 Dec 2019 8:01 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top