Top
Home > देश > एनआरसी मामला : राजनाथ सिंह ने कहा - तृणूमूल सांसदों के प्रतिनिधिमंडल के साथ नहीं हुआ किसी तरह का दुर्व्यवहार

एनआरसी मामला : राजनाथ सिंह ने कहा - तृणूमूल सांसदों के प्रतिनिधिमंडल के साथ नहीं हुआ किसी तरह का दुर्व्यवहार

एनआरसी मामला : राजनाथ सिंह ने कहा - तृणूमूल सांसदों के प्रतिनिधिमंडल के साथ नहीं हुआ किसी तरह का दुर्व्यवहार

नई दिल्ली। तृणमूल कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल को असम के सिलचर हवाई अड्डे पर रोके जाने के मामले में सरकार ने कहा कि खुफिया सूचना के आधार पर तृणमूल नेताओं को वहां रोका गया। शुक्रवार को लोकसभा में केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने तृणमूल कांग्रेस के कल्याण बनर्जी द्वारा इस मामले को उठाए जाने पर कहा कि असम सरकार को खुफिया एजेंसियों और मीडिया के जरिए ऐसी सूचना मिली थी, जिसके आधार पर कानून व्यवस्था की स्थिति बनाए रखने के लिए तृणमूल कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल को सिलचर हवाई अड्डे पर रोका गया।

केंद्रीय गृहमंत्री ने बनर्जी के उन आरोपों को भी खारिज किया जिसमें उन्होंने पार्टी के छह महिला सांसदों और पश्चिम बंगाल के कुछ मंत्रियों के साथ दुर्व्यवहार की बात कही थी। उन्होंने कहा कि प्रतिनिधिमंडल के नेताओं का हवाई अड्डे पर पूरे प्रोटोकॉल के साथ स्वागत किया गया। जिलाधिकारी ने हाथ जोड़कर नेताओं से अनुरोध किया कि वहां धारा 144 लागू है, इसलिए उनका बाहर जाना उचित नही है।

सिंह ने कहा कि असम सरकार से यह जानकारी मिली है कि प्रतिनिधिमंडल के कुछ सदस्यों ने पुलिस के साथ हाथापाई की और उसी में एक सांसद को थोड़ी बहुत चोट लगी । इस दौरान दो महिला पुलिसकर्मी भी घायल हुई हैं । उन्होंने आरोप लगाया कि तृणमूल काग्रेंस के प्रतिनिधिमंडल ने हवाई अड्डे पर हंगामा भी किया, जिसकी कुछ यात्रियों ने शिकायत की है।

राजनाथ ने कहा कि प्रतिनिधिमंडल को रोके जाने के बाद उस दिन कोई अगली फ्लाइट नहीं होने के कारण सांसदों को रात भर हवाई अड्डे के अतिथिगृह में ठहराया गया और शुक्रवार सुबह उन्हें कोलकाता होते हुए दिल्ली पहुंचाया गया है।

इससे पूर्व कल्याण बनर्जी ने इस मामले को उठाते हुए कहा कि प्रतिनिधिमंडल केवल जायजा लेने गया था। जहां उसे रोका गया और हाथापाई की गई। इस दौरान सत्तापक्ष की ओर से कुछ बोले जाने पर तृणमूल नेता ने कहा कि उनके बयान से स्पष्ट है कि सासंदों को रोके जाने के पीछे सरकार की गलत मंशा थी।

Updated : 2018-08-03T21:44:35+05:30

Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top