Home > देश > महबूबा मुफ्ती ने भारत की हार के लिए नई जर्सी को बताया जिम्मेदार

महबूबा मुफ्ती ने भारत की हार के लिए नई जर्सी को बताया जिम्मेदार

महबूबा मुफ्ती ने भारत की हार के लिए नई जर्सी को बताया जिम्मेदार
X

श्रीनगर। विश्वकप में इंग्लैंड के खिलाफ मुकाबले में टीम इंडिया की हार हुई है। इंग्लैंड के खिलाफ 338 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया 31 रन से यह मैच हार गई। इस वर्ल्डकप में भारत की यह पहली हार है। भारत की हार के लिए जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने नई जर्सी को जिम्मेदार ठहराया है। विश्वकप में इंग्लैंड के खिलाफ मुकाबले में टीम इंडिया की हार के बाद मुफ्ती ने ट्विट कर कहा, 'आप मुझे अंधविश्वासी कह सकते हैं, लेकिन इस जर्सी ने ही वर्ल्‍ड कप में भारत की जीत के सिलसिले को रोक दिया है।' बता दें कि इंग्लैंड के खिलाफ भारतीय टीम 31 रन से मैच हार गई। इस मैच में भारतीय टीम भगवा कलर की जर्सी पहन कर खेलने उतरी थी।

वहीं नैशनल कॉन्फ्रेंस लीडर तथा पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला ने भी टीम इंडिया की हार पर सवाल उठाया है। उमर ने कहा, 'पाकिस्तान और इंग्लैंड की जगह अगर हमारा सेमीफाइनल का टिकट दांव पर लगा होता तब भी क्या टीम इंडिया ऐसे ही बल्लेबाजी करती?' आईसीसी के नियमों के मुताबिक, अफगानिस्तान और इंग्लैंड दोनों टीमों के खिलाड़ियों की जर्सी का रंग नीला है। किसी भी ऐसे मैच में, जिसका प्रसारण टीवी पर होता है, दोनों टीमें एक ही रंग की जर्सी पहनकर नहीं उतर सकती हैं। यह नियम फुटबॉल के 'होम और अवे' मुकाबलों में पहनी जाने वाली जर्सी से प्रेरित होकर बनाया गया है।

इस मैच में भारत की ओर से रोहित शर्मा (102) ने शतक और कप्तान विराट कोहली (66) ने हाफ सेंचुरी बनाई थी। इन दोनों के बाद हार्दिक पंड्या (45) ने कुछ कोशिशें जरूर कीं लेकिन उनके अलावा कोई भी दूसरा बल्लेबाज जरूरत के मुताबिक बल्लेबाजी नहीं कर पाए।

मौजूदा वर्ल्ड कप में यह टीम इंडिया की पहली हार है। इतना ही नहीं 1992 वर्ल्ड कप बाद टीम इंडिया वर्ल्ड कप में इंग्लैंड से पहले बार हारी है। इससे पहले 27 साल पहले इंग्लैंड ने वर्ल्ड कप 1992 में खेले गए वर्ल्ड कप मुकाबले में भारत को आखिरी बार मात दी थी। इंग्लैंड की भारत पर इस जीत से पाकिस्तान के सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीदों को कुछ हद तक झटका लगा है।

Updated : 1 July 2019 8:48 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top