Top
Home > देश > ममता को असम में लगा बड़ा झटका, टीएमसी के प्रदेश अध्यक्ष समेत तीन नेताओं ने पार्टी छोड़ी

ममता को असम में लगा बड़ा झटका, टीएमसी के प्रदेश अध्यक्ष समेत तीन नेताओं ने पार्टी छोड़ी

ममता को असम में लगा बड़ा झटका, टीएमसी के प्रदेश अध्यक्ष समेत तीन नेताओं ने पार्टी छोड़ी
X

गुवाहाटी। राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के मुद्दे पर विपक्षी दलों को एकजुट करने की कोशिश में जुटी तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) मुखिया और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता को गुरुवार को असम में बड़ा झटका लगा है। असम प्रदेश टीएमसी अध्यक्ष दीपेन पाठक के साथ ही अन्य दो नेताओं ने गुरुवार को पार्टी से पद त्याग कर दिया। टीएमसी से पद त्याग करने वाले अन्य दो नेताओं में दिगंत सैकिया और प्रदीप पचोनी हैं। मीडिया से बातचीत करते हुए दीपेन पाठक ने कहा है कि ममता बनर्जी को एनआरसी की वस्तुस्थित का पता नहीं है। उन्होंने कहा है कि एनआरसी के उद्देश्य को जाने बिना इसकी निंदा करना सही नहीं है, क्योंकि असम की स्थिति बेहद अलग है।

ममता बनर्जी अपने बयानों को सही साबित करने के लिए असम के बराक घाटी के कछार जिला मुख्यालय शहर सिलचर के विभिन्न दल व संगठनों से चर्चा करने के लिए अपने मंत्रिमंडल के सहयोगियों, पार्टी के सांसदों व विधायकों की एक टीम को सिलचर भेजा है। हालांकि जिला प्रशासन कानून व्यवस्था की स्थिति को देखते हुए धारा 144 लागू किया है। गुरुवार को जैसे ही टीएमसी के नेताओं का प्रतिनिधिमंडल सिलचर शहर के कुंभीरग्राम हवाई अड्डे पर पहुंचा। पुलिस ने उन्हें हवाई अड्डे से बाहर निकलने से रोक दिया।

गुवाहाटी में 30 जुलाई को असम में एनआरसी की दूसरी व अंतिम मसौदा सूची जारी की गई थी। सूची में 2 करोड़ 89 लाख 83 हजार 677 लोगों का नाम शामिल किया गया था। करीब 40 लाख 07 हजार 708 लोगों के नाम सूची से बाहर रखे गए हैं। एनआरसी में नाम दाखिल कराने के लिए कुल 3 करोड़ 29 लाख लोगों ने आवेदन किया था।

टीएमसी के असम प्रदेश अध्यक्ष दीपेन पाठक ने ममता बनर्जी के बयान का कड़े शब्दों में विरोध किया है। उन्होंने कहा कि टीएमसी प्रमुख जैसा बताने की कोशिश कर रही हैं, असम में स्थिति ठीक उसके विपरीत है।

ममता बनर्जी ने भाजपा पर असम में एनआरसी के जरिए वोट बैंक की राजनीति करने का आरोप लगाते हुए कई तरह के भड़काऊ बयान दिए हैं। ममता बनर्जी के बयान को लेकर असम में भारी विरोध-प्रदर्शन हो रहा है। अब तक तीन थानों में ममता बनर्जी के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई गई है, जिसमें डिब्रूगढ़ जिले का नाहरकटिया, लखीमपुर जिला सदर थाना और राजधानी गुवाहाटी के पान बाजार सदर थाना शामिल हैं।

Updated : 2018-08-03T02:36:43+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top