Top
Home > देश > के.जे. अल्फोन्स ने कहा - लिंचिंग भारत की छवि के लिए अच्छा नहीं

के.जे. अल्फोन्स ने कहा - लिंचिंग भारत की छवि के लिए अच्छा नहीं

के.जे. अल्फोन्स ने कहा - लिंचिंग भारत की छवि के लिए अच्छा नहीं

नई दिल्ली। केन्द्रीय पर्यटन मंत्री के.जे. अल्फोन्स ने कहा कि मॉब लिंचिंग भारत की छवि के लिए अच्छा नहीं है। उन्होंने कहा कि इस तरह की घटनाएं विदेशी पर्यटकों के बीच भारत की सशक्त छवि को खराब कर रही हैं। यह बात केन्द्रीय पर्यटन मंत्री ने बीजिंग में कही है।

के.जे अल्फोन्स ने आगे कहा कि लिंचिंग जैसी घटनाएं होना ठीक नहीं है। हमारे प्रधानमंत्री ने भी इस तरह की घटना में संलिप्त होने वाले लोगों को अपराधी कहा है। उन्होंने राज्यों को दिशा भी निर्देश दे दिया है कि लिंचिंग की घटनाओं पर तुरन्त कार्रवाई करें क्योंकि कानून व्यवस्था बनाए रखना हर राज्य का विषय है।

पत्रकारों ने जब पूछा कि क्या बीफ बैन भी विदेशी पर्यटकों को प्रभावित कर रहा है जिसके जवाब में केंद्रीय मंत्री ने कहा, 'ऐसा कुछ नहीं है। केरल, गोवा और पूर्वोत्तर के राज्यों में बीफ खाया जाता है। ये सारे राज्य पर्यटन के लिए अच्छा हैं। वहां पर्यटक जाते हैं। केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि लोगों को अन्य लोगों की भावनाओं का भी सम्मान करना चाहिए।

केंद्रीय मंत्री के अनुसार "आने वाले तीन सालों में हम 1 करोड़ 40 लाख चीनी पर्यटक भारत में लाना चाहते हैं।''

महिलाओं की सुरक्षा से जुड़े सवाल पर केंद्रीय मंत्री ने इसे दृष्टिकोण की लड़ाई बताया। के.जे. अल्फोन्स ने कहा कि 540 लोग जिनमें से केवल 43 भारतीय थे, के विचारों के आधार पर यह नहीं कहा जा सकता कि भारत महिलाओं के लिए दुनिया का सबसे असुरक्षित देश है।

इन दिनों केंद्रीय मंत्री अल्फोन्स भारत में चीनी पर्यटकों को आकर्षित करने के चीन के दौरे पर हैं जहां उन्होंने आज (बुधवार) अधिक पर्यटकों को भारत की ओर आकर्षित करने के लिहाज से बींजिंग में एक रोड शो भी किया। बीजिंग के बाद वे शंघाई और वुहान भी जाएंगे।

उल्लेखनीय है कि दुनिया के पर्यटन में 21 फीसदी पर्यटक चीन से आते हैं। पिछले साल 14 करोड़ से ज्यादा चीनी लोग विदेशों में घूमने गए, जिसमें से सिर्फ लगभग तीन लाख भारत आए थे।

Updated : 2018-08-30T22:16:11+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top