Home > देश > खट्टर संभालेंगे फिर से एक बार हरियाणा की कमान, दिवाली के दिन लेंगे सीएम पद की शपथ

खट्टर संभालेंगे फिर से एक बार हरियाणा की कमान, दिवाली के दिन लेंगे सीएम पद की शपथ

खट्टर संभालेंगे फिर से एक बार हरियाणा की कमान, दिवाली के दिन लेंगे सीएम पद की शपथ
X

चंडीगढ़। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर रविवार (27 अक्टूबर) को दूसरी बार प्रदेश की कमान संभालेंगे। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, खट्टर दीपावली के दिन (27 अक्टूबर) हरियाणा के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। इससे पहले हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को शनिवार चंडीगढ़ में आम सहमति से भाजपा विधायक दल का नेता चुन लिया गया। खट्टर हेलीकॉप्टर से सुबह दिल्ली से यहां पहुंचे और सीधे अपने आधिकारिक आवास पर गए। विधायक दल की बैठक हालांकि महज एक औपचारिकता थी क्योंकि पार्टी पहले से ही तय कर चुकी थी कि खट्टर ही अगली सरकार की अगुवाई करेंगे।

जननायक जनता पार्टी (जजपा) के साथ गठबंधन होने के बाद भाजपा हरियाणा में नई सरकार बनाने के लिए पूरी तरह तैयार है। जजपा ने 90 सदस्यीय विधानसभा में 10 सीट हासिल की है। सत्तारूढ़ भाजपा ने उपमुख्यमंत्री का पद जजपा को देने की पेशकश की है। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार (25 अक्टूूबर) को नयी दिल्ली में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा था कि मुख्यमंत्री उनकी पार्टी का होगा और उपमुख्यमंत्री का पद क्षेत्रीय पार्टी को दिया जाएगा।

राज्य विधानसभा चुनाव में किसी एक पार्टी को पूर्ण बहुमत नहीं मिला है, हालांकि भाजपा 40 सीटों के साथ सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। चुनाव नतीजे आने के बाद भारतीय जनता पार्टी अगली सरकार बनाने के लिए जरूरी बहुमत के आंकड़े से छह सीट पीछे रह गई। चुनाव में कांग्रेस को 31 सीटों पर जीत मिली है, जबकि जननायक जनता पार्टी (जजपा) को 10 और इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) और हरियाणा लोकहित पार्टी (एचएलपी) को एक-एक सीट मिली हैं। स्वतंत्र उम्मीदवारों ने सात सीटों पर जीत दर्ज की है।

हरियाणा में सोमवार (21 अक्टूबर) को 68 प्रतिशत से अधिक मतदान दर्ज किया गया था जो 2014 में हुए विधानसभा चुनाव की तुलना में कुछ कम था। उस वर्ष 76.54 प्रतिशत मतदान हुआ था। वर्ष 2014 में भाजपा ने 47 सीटों पर जीत दर्ज की थी और कांग्रेस को 15 सीटें मिली थी। इंडियन नेशनल लोकदल ने 19 सीटों पर जीत हासिल की थी और बहुजन समाज पार्टी तथा शिरोमणि अकाली दल को एक-एक सीट मिली थी। पांच निर्दलीय थे। इस बार 105 महिलाओं समेत 1,169 उम्मीदवार मैदान में थे।

Updated : 2019-10-30T14:00:32+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top