Home > देश > नन रेप मामले में सबूत नष्ट न होनें दे केरल सरकार : राष्ट्रीय महिला आयोग

नन रेप मामले में सबूत नष्ट न होनें दे केरल सरकार : राष्ट्रीय महिला आयोग

नन रेप मामले में सबूत नष्ट न होनें दे केरल सरकार : राष्ट्रीय महिला आयोग
X

नई दिल्ली। राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडब्ल्यू) ने बुधवार को केरल के मुख्यमंत्री पी. विजयन से दुष्कर्म के आरोपित बिशप फ्रांको मुलक्कल के खिलाफ सबूत नष्ट न होने देने का आग्रह किया है। यह बात एनसीडब्ल्यू की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने एक पत्र लिखकर कही है।

रेखा शर्मा ने मुख्यमंत्री पी. विजयन को लिखे पत्र में दुष्कर्म आरोपित बिशप फ्रांको मुलक्कल द्वारा सबूत नष्ट किए जाने के प्रयास को लेकर चिंता व्यक्त की है। उन्होंने पत्र में लिखकर कहा, 'दुष्कर्म के आरोपित बिशप के खिलाफ ठोस सबूतों को नष्ट करने और प्रत्यक्षदर्शियों को डराने-धमकाने के प्रयासों को े कदम तुरंत उठाये जाने चाहिए, जिससे न्याय हो सके।'

उन्होंने आगे लिखा है कि उसे इस संबंध में केरल के कुरुविलनगाडू के सेंट फ्रांसिस मिशन होम की सिस्टर नीना रोज तथा सिस्टर रानित पलासेरिल की दो शिकायतें मिली हैं। शिकायतों में कहा गया है कि उन्हें दूर-दराज के इलाकों में स्थानांतरित किया जा रहा है, जो वास्तव में उन दोनों को अलग करने की साजिश है। ये दोनों बिशप के खिलाफ दुष्कर्म मामले में मुख्य गवाह हैं। अपनी शिकायतों में दोनों सिस्टर ने आशंका जताई है कि दूर-दराज के इलाके में उनकी हत्या भी की जा सकती है।

रेखा शर्मा ने आगे लिखा है कि मामले की गंभीरता को देखते हुए आपको (मुख्यमंत्री) व्यक्तिगत रूप से इस मामले में हस्तक्षेप करना चाहिए। साथ ही उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री को दुष्कर्म के आरोप के मामले के सबूतों, गवाहों और पीडि़तों की सुरक्षा सुनिश्चित करनी चाहिए। राष्ट्रीय महिला आयोग ने आग्रह किया कि इस संबंध में जल्द से जल्द उचित और ठोस कदम उठाये जाने चाहिए, जिससे न्याय मिल सके।

Updated : 6 Feb 2019 4:28 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top