Home > देश > पूर्व प्रधानमंत्री का राज्यसभा का कार्यकाल हुआ खत्म, कैसे होगी वापसी जानें

पूर्व प्रधानमंत्री का राज्यसभा का कार्यकाल हुआ खत्म, कैसे होगी वापसी जानें

पूर्व प्रधानमंत्री का राज्यसभा का कार्यकाल हुआ खत्म, कैसे होगी वापसी जानें
X

नई दिल्ली/वेब डेस्क। सत्तरहवीं लोकसभा के पहले संसद सत्र से तीन दिन पहले पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह का राज्यसभा का कार्यकाल खत्म हो गया है। मनमोहन सिंह 1991 से लगातार पांच बार राज्यसभा सदस्य रहे हैं। सत्ताइस साल बाद यह पहला मौका है जब डॉ मनमोहन सिंह संसद से बाहर रहेंगे।

डॉ मनमोहन सिंह असम से राज्यसभा सांसद रहे हैं। पर इस बार कांग्रेस के लिए चुनाव जीतना आसान नहीं है। असम विधानसभा की 126 में से कांग्रेस के पास सिर्फ 26 सीट हैं। एआईयूडीएफ की 13 सीट हैं। ऐसे में एआईयूडीएफ के सहयोग से भी असम से कांग्रेस के लिए चुनाव जीतना मुमकिन नहीं था। असम से राज्यसभा की दो सीट के लिए हुए चुनाव में एक सीट भाजपा और दूसरी सीट असम गण परिषद के हिस्से में आई है। यह दोनों सीट ड़ॉ मनमोहन सिंह और एस कुजूर का कार्यकाल खत्म होने से खाली हुई हैं। इन सीट पर चुनाव के लिए चुनाव आयोग पहले की प्रक्रिया शुरु कर चुका है।

कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि ड़ॉ मनमोहन सिंह का संसद में रहने बेहद जरुरी है। ऐसे में पार्टी उन्हें किसी दूसरे राज्य से संसद भेजने की संभावना तलाशेगी। पार्टी के सामने विकल्प बहुत सीमित हैं। पार्टी पूर्व प्रधानमंत्री को तमिलनाडु से डीएमके के सहयोग से भी राज्यसभा भेजने का विकल्प तलाश रही है।

पार्टी तमिलनाडु से ड़ॉ मनमोहन सिंह को राज्यसभा नहीं भेज सकी, तो फिर अगले साल अप्रैल तक इंतजार करना पड़ सकता है। क्योंकि, अप्रैल में राज्यसभा की 55 सीटों के लिए चुनाव हुए हैं। इनमें से कांग्रेस शासित राज्यों की छह सीट खाली होंगी। ऐसे में कांग्रेस इन राज्यों से पूर्व प्रधानमंत्री को राज्यसभा भेज सकती है।

Updated : 2019-06-15T14:19:53+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top