Top
Home > देश > पूर्व प्रधानमंत्री का बंगला नए केन्द्रीय गृह मंत्री को किया जा सकता है आवंटित

पूर्व प्रधानमंत्री का बंगला नए केन्द्रीय गृह मंत्री को किया जा सकता है आवंटित

पूर्व प्रधानमंत्री का बंगला नए केन्द्रीय गृह मंत्री को किया जा सकता है आवंटित

नई दिल्ली। केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का कृष्णमेनन मार्ग स्थित बंगला आवंटित किया जा सकता है। वाजपेयी 2004 में प्रधानमंत्री के पद से हटने के बाद इसमें रह रहे थे। पिछले साल अगस्त में वाजपेयी के निधन के बाद उनके परिजनों ने नवंबर में इस बंगले को खाली कर दिया था।

सरकार के सूत्रों ने बृहस्पतिवार को बताया कि बतौर गृह मंत्री, शाह की सुरक्षा जरूरतों के मुताबिक इस बंगले को अगले एक महीने में तैयार कर दिया जायेगा। सत्रहवीं लोकसभा के गठन के बाद बतौर केन्द्रीय मंत्री, शाह को यह बंगला आवंटित किया गया है। इस बंगले में फिलहाल जरूरी मरम्मत का काम चल रहा है। बंगले पर तैनात कर्मचारियों ने बताया कि शाह स्वयं बंगले का मुआयना कर जरूरत के मुताबिक मरम्मत आदि के काम का जायजा ले चुके हैं।

नवगठित लोकसभा में शाह, गांधीनगर लोकसभा क्षेत्र से बतौर सांसद भी निर्वाचित हुये हैं। फिलहाल वह राज्यसभा सदस्य के रूप में, अकबर रोड स्थित 11 नंबर बंगले में रह रहे हैं। वह 19 अगस्त 2017 में राज्यसभा सदस्य बने थे। उच्च सदन में उनका कार्यकाल 2023 तक निर्धारित था। लेकिन हाल ही में हुये लोकसभा चुनाव में जीतने और मोदी सरकार में गृह मंत्री बनाये गये शाह को नया बंगला आवंटित किया गया है।

बतौर पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी, 14 साल तक कृष्णमेनन मार्ग स्थित बंगला बंगले में रहे। उनके निधन के बाद, तत्कालीन मोदी सरकार ने इस बंगले को अटल स्मृति के रूप में घोषित करने के कुछ भाजपा नेताओं के विचार को खारिज कर दिया था। सरकार ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की समाधि, राजघाट के पास वाजपेयी के समाधि स्थल को उनकी स्मृति में सदैव अटल के नाम से विकसित किया है।

Updated : 7 Jun 2019 4:47 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top