Home > देश > श्रीगंगानगर में किसान की आत्महत्या का मामला लोकसभा में पहुंचा

श्रीगंगानगर में किसान की आत्महत्या का मामला लोकसभा में पहुंचा

श्रीगंगानगर में किसान की आत्महत्या का मामला लोकसभा में पहुंचा
X

नई दिल्ली/जयपुर। किसानों की आत्महत्या देश के हर कौने से समाचार मिलते रहते हैं। अबकी बार राजस्थान के श्रीगंगानगर में एक किसान ने आत्महत्या कर ली। उसने अपने मरने के बाद एक सुसाइट नोट में लिखकर गए हैं कि मेरे मरने के जिम्मेदार राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट हैं। यह मामला संसद में पहुंच गया है।

मिली जानकारी के अनुसार, श्रीगंगानगर जिले के रायसिंहनगर क्षेत्र के गांव ठाकरी के रहने वाले किसान सोहन कड़ेला (45) ने रविवार को जहर खाकर आत्महत्या कर ली थी। अपने सुसाइड नोट में लिखा है कि मैं आज अपनी जीवन लीला समाप्त करने जा रहा हूं, इसमें किसी का कोई दोष नहीं है। इस मौत के जिम्मेदार अशोक गहलोत और सचिन पायलट हैं। उन्होंने बकायदा बयान दिया था कि 10 दिन में आपका कर्ज माफ कर देंगे, हमारी सरकार आई तो अब इनके वादे का क्या हुआ। सभी किसान भाइयों से विनती है कि मेरी लाश जब तक मत उठाना जब तक सभी किसानों का कर्ज माफ ना हो जाए। अब यह मामला लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला तक पहुंच गया है, श्रीगंगानगर के सांसद ने इस मसले को ओम बिड़ला के सामने उठाया।

किसान की मौत पर राजस्थान के उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने कहा कि अभी वे इसकी जांच करवा रहे हैं। उन्होंने कहा कि शायद वह किसान कर्ज में डूबा हुआ नहीं था, लेकिन जो भी हुआ वह दुखद है, सरकार किसानों के उज्जवल भविष्य के लिए कटिबद्ध है।

आत्महत्या के बाद डीएसपी जयसिंह तंवर ने बताया कि मामले में चुनाव के समय जो किसानों का कर्ज माफ़ करने की बात कही थी, वह पूरी नहीं होने पर किसान ने आत्महत्या करने का कदम उठाया है।

आपको बताते जाए कि राजस्थान में हाल ही में विधानसभा चुनाव हुए थे। कांग्रेस की तरफ से कर्जमाफी को बड़ा मुद्दा बनाया गया था और दस दिन में किसानों के कर्ज को माफ करने का वादा किया गया था।

Updated : 25 Jun 2019 12:54 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top