Top
Home > देश > नशे का प्रभाव : ओवरडोज से कबड्डी खिलाड़ी की मौत, विपक्ष ने सरकार को घेरा

नशे का प्रभाव : ओवरडोज से कबड्डी खिलाड़ी की मौत, विपक्ष ने सरकार को घेरा

ग्रामीणों व परिजनों के अनुसार कुछ समय से वह नशे की गिरफ्त में आने के कारण कबड्डी से मुंह मोड़ चुका था।

नशे का प्रभाव : ओवरडोज से कबड्डी खिलाड़ी की मौत, विपक्ष ने सरकार को घेरा

चंडीगढ़। पंजाब राज्य के जिला फिरोजपुर में नशे की ओवरडोज के कारण एक कबड्डी खिलाड़ी की मौत हो गई। पंजाब में पिछले पांच दिनों के भीतर नशे के कारण पांच नौजवानों की मौत से प्रदेश की अमरिंदर सरकार कठघरे में आ गई है और विपक्ष ने फिर से ड्रग्स के मुद्दे पर सरकार को घेरना शुरू कर दिया है।

फिरोजपुर जिले के गांव आरिफ निवासी सतनाम सिंह कबड्डी खिलाड़ी था। वह राज्य व राष्ट्रीय स्तर पर कबड्डी खेल चुका है। ग्रामीणों व परिजनों के अनुसार कुछ समय से वह नशे की गिरफ्त में आने के कारण कबड्डी से मुंह मोड़ चुका था। सतनाम सिंह ने बीती रात भी नशे का इंजेक्शन लगाया और ओवरडोज के कारण उसकी मौत हो गई।पिछले पांच दिनों में नशे की ओवरडोज के कारण पांच नौजवानों की मौत हो चुकी है। इससे पहले गुरुवार को अमृतसर के छेहरटा इलाके में नशे की ओवरडोज के कारण करण सिंह व हरप्रीत सिंह नामक दो दोस्तों की मौत हो गई। दोनों के शव के पास इंजेक्शन भी बरामद हुए। फरीदकोट जिले के कोटकपूरा क्षेत्र में भी कुलविंदर सिंह नामक नौजवान नशे की लत का शिकार होकर मौत के मुंह में चला गया।

पंजाब के सीमावर्ती जिला तरनतारन के गांव एमां खुर्द में रविवार की शाम उस समय सनसनी फैल गई जब तीन नौजवान संदिग्ध हालत में नशे के टीकों के साथ मिले। ग्रामीणों ने तीनों नौजवानों को अस्पताल पहुंचाया जहां एक नौजवान की मौत हो गई। मृतक गुरजंट सिंह के परिजनों ने पुलिस को दिए बयान में कहा कि वह घर से किसी काम के लिए गया था लेकिन जब काफी देर तक नहीं लौटा तो तलाश शुरू करने पर वह अचेत अवस्था में मिला। गुरजंट सिंह की दोनों बाहों पर टीके के निशान लगे थे और उसकी जेब से पुलिस ने इंजेक्शन भी बरामद किए।पंजाब में नशे के कारण पांच दिन में पांच नौजवानों की मौत के बाद विपक्ष फिर से आक्रामक हो गया है।

विधानसभा में विपक्ष के नेता सुखपाल सिंह खैहरा ने आज यहां दावा किया कि पंजाब में ड्रग्स माफिया पहले के मुकाबले अधिक सक्रियता के साथ अपना काम कर रहा है। आज पंजाब में नशा तस्करी को लेकर लगातार वीडियो वायरल हो रहे हैं और सरकार कुछ नहीं कर रही है। खैहरा ने कहा कि पांच दिन में पांच नौजवानों की मौत ने सरकार की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े कर दिए हैं, सरकार को इसका जवाब देना होगा।

Updated : 2018-06-26T01:29:52+05:30

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top