Home > देश > विकास एवं राष्ट्रवाद ने तोड़ दिया जातीय बंधन : मनोज सिन्हा

विकास एवं राष्ट्रवाद ने तोड़ दिया जातीय बंधन : मनोज सिन्हा

विकास एवं राष्ट्रवाद ने तोड़ दिया जातीय बंधन : मनोज सिन्हा
X

गाजीपुर। लोकतंत्र के महापर्व के दो चरणों का मतदान सम्पन्न हो गया है। बाकी के चरणों के लिए सभी दलों के नेता प्रचार में जुटे हुए हैं। ऐसे में उत्तर प्रदेश के पूर्वांचल की सीटें महत्वपूर्ण हैं। यहां भाजपा लगातार अपनी सीटों पर जीत को बरकरार रखने की कोशिश कर रही है, वहीं विपक्षी दल भी सेंधमारी के लिए माथापच्ची कर रहा है। इन तमाम मुद्दों पर 'हिन्दुस्थान समाचार' ने केन्द्रीय राज्य मंत्री मनोज सिन्हा से बातचीत की। पेश है उन्हीं के मुख्य अंश:

सपा-बसपा एवं रालोद के महागठबंधन के बाद जातिय समीकरण भाजपा के पक्ष में नहीं जा रहा है। सपा-बसपा लगातार जीत का दावा कर रहे हैं। ऐसे में कैसे कमल खिलेगा?

मनोज सिन्हा: 2014 के लोकसभा चुनाव में भी ऐसे ही समीकरण थे, जब नरेन्द्र मोदी के आगे सभी का सुपड़ा साफ हो गया था। गाजीपुर लोकसभा क्षेत्र में ही जातिगत समीकरण में हम कहीं नहीं ठहरते, लेकिन लोगों ने विकास और राष्ट्रवाद के नाम पर विपक्ष की बोलती बंद कर दी। इस बार तो काम और विश्व में भारत की बढ़ती शान पर मतदाता वोट करने जा रहे हैं। हर तरफ नरेन्द्र मोदी की लहर है। गांव-गांव में लोगों को विकास दिख रहा है।

जातिगत समीकरण काे भाजपा कैसे ध्वस्त करेगी?

मनोज सिन्हा: देश में जातिवाद, वंशवाद और संप्रदायवाद नासूर बन चुका है। प्रभावी रूप से विजय प्राप्त करने के लिए विकासवाद ही एकमात्र रास्ता है, जिसमें पिछले पांच साल में हमें बहुत सफलता मिली है। 2019 में नरेन्द्र मोदी की फिर सरकार बनने जा रही है और अगले पांच वर्ष में हमें इन नासूरों से पूर्णरूप से मुक्ति मिल जाएगी।

पूर्वांचल में भाजपा की स्थिति क्या रहेगी?

मनोज सिन्हा: आजादी के बाद यह पहली सरकार है जिसने पूर्वांचल के सर्वांगीण विकास पर ध्यान दिया है। इससे पहले पूर्वांचल को सिर्फ वोटबैंक के रूप में देखा जाता था। आज रेल, यातायात और कृषि कार्यों का चारों तरफ विकास दिख रहा है। कोई सोच नहीं सकता था कि गाजीपुर की मिर्च दुबई में बिकेगी, लेकिन कार्गो सेंटर खुलने के बाद ऐसा हुआ है। आजादी के बाद से ही गाजीपुर में गंगा पर पुल बनाने की मांग थी। पीएम नरेन्द्र मोदी के बनारस से चुनाव लड़ने के बाद ही गंगा पर पुल का निर्माण भी संभव हुआ। पूर्वांचल ही नहीं पूरे देश में इस बार भाजपा की स्थिति पिछली बार की अपेक्षा ज्यादा बेहतर है।

आपने पिछले पांच साल में पूर्वांचल और गाजीपुर के विकास के लिए बहुत काम किया है। आगे की क्या योजना है?

मनोज सिन्हा: विकास सतत चलने वाली प्रक्रिया है। पूर्वांचल और गाजीपुर के लोगों ने पांच साल के विकास कार्य को देखा है। पहले यातायात यहां की मुख्य समस्या रही, जो अब दूर हो गयी है। आगे शिक्षा को बेहतर बनाने से लेकर रोजगार बढ़ाने की प्रक्रिया में गति लाई जाएगी।

विपक्ष का आरोप है कि भाजपा के शासन काल में बेरोजगारों बढ़ी है?

मनोज सिन्हा: विपक्ष मुद्दा विहीन हो चुका है। कांग्रेस 60 साल में गरीबी दूर नहीं कर सकी। ऐसे में वह कह क्या सकती है। सपा और बसपा सिर्फ कुछ लोगों को बरगलाने में लगी रही। विकास कार्य कभी दिखा नहीं। भाजपा के शासन काल में छोटे से बड़े रोजगारों का सृजन हुआ। स्किल डेवलपमेंट सेंटर के माध्यम से करोड़ों युवाओं को रोजगार मिला है। लिहाजा लाखों युवा आज खुद दूसरों को रोजगार देने की स्थिति में हैं।

Updated : 19 April 2019 5:06 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top