Home > देश > देशभक्ति और राष्ट्र निर्माण एक सिक्के के दो पहलू : राज्यवर्धन राठौड़

देशभक्ति और राष्ट्र निर्माण एक सिक्के के दो पहलू : राज्यवर्धन राठौड़

देशभक्ति और राष्ट्र निर्माण एक सिक्के के दो पहलू : राज्यवर्धन राठौड़
X

नई दिल्ली। युवा मामले और खेल राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) कर्नल राज्यवर्धन राठौर ने कहा है कि देशभक्ति और राष्ट्र निर्माण एक सिक्के के दो पहलू हैं और राष्ट्र निर्माण सरकार और नागरिकों के बीच सहयोगात्मक प्रयास है।

नेहरू युवा केंद्र संगठन (एनवाईकेएस) द्वारा गुरुवार को यहां युवा मामलों के विभाग के सहयोग से दो दिवसीय राष्ट्रीय उद्घोषणा प्रतियोगिता में उद्घाटन भाषण देते हुए कर्नल राठौड़ ने कहा कि राष्ट्र निर्माण के लिए प्रत्येक नागरिक का योगदान आवश्यक है। उन्होंने कहा कि यह एक ऐसा कार्य है जिसे किसी को भी आउटसोर्स नहीं किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि भारत विविधताओं का देश है इसलिए राष्ट्रीय ध्वज और राष्ट्रगान जैसे प्रतीकों के प्रति अपनेपन और देशभक्ति की भावना को होना बेहत आवश्यक है।

उन्होंने याद दिलाया कि हमारा संविधान हमें कुछ अधिकारों के लिए प्रेरित करता है, लेकिन कर्तव्य भी हैं जिनका पालन सभी भारतीयों को करना है। मंत्री ने 29 राज्यों के 'उद्घोषणा प्रतियोगिता' के कुछ प्रतियोगियों के साथ बातचीत भी की।

सरकार के अनुसार 'राष्ट्रीय उद्घोषणा प्रतियोगिता' का उद्देश्य राष्ट्र निर्माण में युवाओं और जनता के बीच राष्ट्रवाद और देशभक्ति की भावना को अधिक मजबूत करना है। यह युवाओं को उनके समग्र विकास और सशक्तिकरण के लिए नेतृत्व गुणों और अच्छे संचार कौशल से परिचित कराता है। इससे उन्हें राष्ट्र निर्माण के प्रति सरकार के कार्यों और नीतियों को समझने में मदद मिलेगी। एनवाईकेएस 2015-16 से राष्ट्रीय स्तर की घोषणा प्रतियोगिता का आयोजन कर रहा है। (हि.स.)

Updated : 24 Jan 2019 11:16 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top