Top
Home > देश > प्रदूषित हुई एनसीआर की आबोहवा, सांस लेना मुश्किल

प्रदूषित हुई एनसीआर की आबोहवा, सांस लेना मुश्किल

प्रदूषित हुई एनसीआर की आबोहवा, सांस लेना मुश्किल

नई दिल्ली/स्वदेश वेब डेस्क। दिल्ली में प्रदूषण के स्तर में लगातार इजाफा हो रहा है। दिल्ली-एनसीआर में अब सांस लेना मुश्किल हो रहा है। दिल्ली में आज मंगलवार को भी वायु प्रदूषण खतरनाक स्तर पर है। लोधी रोड इलाके में एयर क्वालिटी इंडेक्स के अनुसार हवा में पीएम 2.5 और पीएम 10 दोनों का स्तर 280 पर है।

प्रदूषण के मुद्दे पर हमारे प्रतिनिधि ने कुछ लोगों से बाचचीत की। नोएडा से दिल्ली नौकरी करने वाली मुस्कान कहती हैं कि पिछले कुछ दिनों से पूरे एनसीआर में प्रदूणण के कारण जीना मुश्किल हो गया है। मुस्कान कहती हैं कि उनका बच्चा बीमार रहता है। प्रदूषण के कारण कहीं और बीमार न हो जाए इस बात लोकर वह चिंतित रहती हैं। मुस्कान कहती हैं कि वे एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी करती हैं। इसके कारण उनको हर दिन नोएडा से दिल्ली आना होता है। उन्होंने कहा कि न तो दिल्ली की हवा ठीक है, न नोएडा की।

यूपी के गोरखपुर से दिल्ली में इलाज कराने आए एक बुजुर्ग मनोहर यादव ने बताया कि वह पिछले 40 सालों से दिल्ली आते रहे हैं। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ सालों में दिल्ली में सांस लेना मुश्किल हो रहा है। यहां बहुत गंदगी है। अगर दवा नहीं कराना होता तो वे दिल्ली नहीं आते।

अरुणाचल प्रदेश से आज ही दिल्ली पहुंचे बाबू चकमा ने कहा कि यहां सांस लेना मुश्किल है और आंखों में जलन हो रही है। हम लोग खुले इलाके में प्रकृति की गोद में रहते हैं। यहां टिकना मुश्किल है। उन्होंने कहा कि वह दिपावली तक यहां रुकने वाले थे लेकिन अब जल्द ही वापस लौट जाएंगे।

विश्व स्वास्थ्य संगठन की एक रिपोर्ट के मुताबिक 2016 में भारत में पांच साल से कम उम्र के करीब एक लाख बच्चों की जहरीली हवा के प्रभाव में आने से मौत हो गई। हाल ही में ग्रीनपीस ने भी एक रिपोर्ट जारी किया, जिसमें बताया कि भारत में प्रदूषण का स्तर लगातार बढ़ रहा है। रिपोर्ट के मुताबिक नाइट्रोजन ऑक्साइड उत्सर्जन के विश्व के तीन सबसे बड़े 'हॉटस्पॉट' भारत में हैं और इनमें से एक दिल्ली-एनसीआर में है।

Updated : 2018-11-02T06:56:41+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top