Home > देश > कांग्रेस ने गिनाई अपने कार्यकाल की छह सर्जिकल स्ट्राइक

कांग्रेस ने गिनाई अपने कार्यकाल की छह सर्जिकल स्ट्राइक

कांग्रेस ने गिनाई अपने कार्यकाल की छह सर्जिकल स्ट्राइक
X

नई दिल्ली। कांग्रेस पार्टी ने गुरुवार को दावा किया कि उनके नेतृत्व वाली संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन की सरकार के शासन काल के दौरान 'छह सर्जिकल स्ट्राइक' किए गए थे।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राजीव शुक्ला ने दिल्ली में आयोजित पत्रकार वार्ता में कहा कि कांग्रेस नेतृत्व वाली सरकार में छह सर्जिकल स्ट्राइक और दो पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के कार्यकाल के दौरान किए गए थे। उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और अटल बिहारी वाजपेयी ने कभी इन सर्जिकल स्ट्राइक का श्रेय लेने की कोशिश नहीं की। वाजपेयी ने 1999 से 2004 के बीच भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार सरकार चलाई थी। मनमोहन सिंह ने 2004 से 2014 के बीच कांग्रेस के नेतृत्व में देश पर शासन किया था।

सर्जिकल स्ट्राइक की गिनाते हुए शुक्ला ने कहा कि पहली 19 जून,2008 को जम्मू कश्मीर के पुंछ में भट्टल सेक्टर में; दूसरी 30 अगस्त,2011 को केल में नीलम नदी घाटी में शारदा सेक्टर में; तीसरी सर्जिकल स्ट्राइक छह जनवरी,2013 को सावन पात्रा चेकपोस्ट पर; चौथी 27-28 जुलाई,2013 को नाज़पीर सेक्टर में; पांचवीं छह अगस्त,2013 को नीलम घाटी में और 14 जनवरी,2014 को छठी सर्जिकल स्ट्राइक की गई।

वाजपेयी के कार्यकाल में दो बार 21 जनवरी,2000 को नीलम नदी के पार नादला एन्क्लेव में और 18 सितंबर,2003 को पुंछ के बारोह सेक्टर में सर्जिकल स्ट्राइक की गई थी।

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा है कि नरेन्द्र मोदी सरकार ने अपनी कई विफलताओं से ध्यान हटाने के प्रयास में सर्जिकल स्ट्राइक को सार्वजनिक किया है। एक अंग्रेजी दैनिक को दिए विशेष साक्षात्कार में सिंह ने कहा कि संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार के कार्यकाल के दौरान 'कई सर्जिकल स्ट्राइक' किए गए थे लेकिन उन्होंने आरोप लगाया कि इससे पहले कभी भी भारत सरकार को सेना की उपलब्धियों के श्रेय लेने की आवश्यकता नहीं पड़ी।

बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादी शिविर पर भारत ने 26 फरवरी को हवाई हमला किया था। यह हमला जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर घातक आतंकवादी हमले के बाद किया गया था, जिसमें 40 जवान शहीद हो गए थे।

वहीं वर्तमान सरकार के कार्यकाल में उरी में भारतीय सेना के शिविर पर हुए आतंकी हमले के कुछ ही दिनों बाद सितंबर 2016 में पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में पहली सर्जिकल स्ट्राइक की थी।

Updated : 2 May 2019 3:02 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top