Top
Home > देश > केंद्र सरकार ग्रामीण अर्थव्यस्था की मजबूती पर खर्च करेगी 25 लाख करोड़ : राष्ट्रपति

केंद्र सरकार ग्रामीण अर्थव्यस्था की मजबूती पर खर्च करेगी 25 लाख करोड़ : राष्ट्रपति

केंद्र सरकार ग्रामीण अर्थव्यस्था की मजबूती पर खर्च करेगी 25 लाख करोड़ : राष्ट्रपति

नई दिल्ली/दमन। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सोमवार को कहा कि केंद्र सरकार ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए प्रयासरत है और आने वाले वर्षों में लगभग 25 लाख करोड़ रुपये की राशि देश के कृषि क्षेत्र पर खर्च की जाएगी।

राष्ट्रपति कोविंद दमन में आयोजित एक समारोह में दादरा और नागर हवेली तथा दमन और दीव की विभिन्न विकास परियोजनाओं का शिलान्यास व उद्घाटन के बाद संबोधित करते हुए उक्त बातें कहीं। उन्होंने कहा कि यहां के किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि, 'गीर आदर्श आजीविका योजना' और बीज, मशीनरी व उपकरण खरीदने के लिए 50 प्रतिशत सब्सिडी देने की योजनाएं चलाई जा रही हैं।

गत माह गणतंत्र दिवस के अवसर पर दादरा व नगर हवेली और दमन व दीव के एकीकरण के लिए केंद्र, संघ राज्य क्षेत्र प्रशासन और जनता को बधाई दी। उन्होंने विश्वास व्यक्त करते हुए कहा कि एकीकृत हुए इस संघ राज्यरक्षेत्र में जन-कल्यापण और विकास की परियोजनाओं से विकास को नई ऊर्जा और गति प्राप्त होगी।

राष्ट्रपति ने आज 15 नये स्वास्थ्य व आरोग्य केन्द्रों का शिलान्यास किया और सात केन्द्रों का लोकार्पण किया। उन्होंने कहा कि इससे लोगों को उनके घर के निकट बेहतर व किफायती स्वास्थ्य सुविधाएं मिल सकेंगी। देश के ग्रामीण क्षेत्रों में पर्याप्त पेयजल उपलब्ध कराने को बड़ी चुनौती बताते हुए कहा कि पानी की कमी के कारण बहनों-बेटियों का जीवन बहुत कठिन हो जाता है। उन्होंने कहा कि पेयजल उपलब्ध कराने के लिए इस संघ राज्यक्षेत्र में लगभग 152 करोड़ रुपये की लागत से तैयार इंटीग्रेटेड वाटर मैनेजमेंट यूनिट का उद्घाटन किया गया है।

जमपोर सी-फ्रंट व नानी दमन जैटी गार्डन के सौंदर्यीकरण, दाभेल स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स और सिलवासा में आउटडोर स्पोर्ट्स सुविधाओं के उद्घाटन से इस क्षेत्र में पर्यटकों का आगमन बढ़ेगा और देश के पर्यटन मानचित्र पर इस संघ राज्यक्षेत्र को महत्वपूर्ण स्थान मिलेगा।

उन्होंने कहा कि सिलवासा में श्री विनोबा भावे सिविल अस्पताल को उन्नत करके 650 बिस्तर वाला मल्टी-स्पेशियालिटी टीचिंग हॉस्पिटल बनाया जा रहा है। दमन में भी 300 बिस्तर वाला अस्पताल बनाया जा रहा है। दादरा व नगर हवेली में 52 आरोग्य केन्द्र और दमन व दीव में 26 आरोग्य केन्द्र काम कर रहे हैं। एक नवीन पहल के रूप में कुल 30 आरोग्य केन्द्रों के अपग्रेडेशन का काम किया जा रहा है।

दादरा व नगर हवेली तथा दमन व दीव के सभी जिलों को खुले में शौच से मुक्त घोषित किये जाने पर राष्ट्रपति ने प्रसन्नता व्यक्त की। उन्होंने कहा कि वर्ष 2019 में स्वच्छता सर्वेक्षण ग्रामीण के अंतर्गत दमन व दीव क्षेत्र को पहला और दादरा व नगर हवेली को दूसरा स्‍थान प्राप्त हुआ।

उन्होंने कहा कि यह प्रसन्‍नता का विषय है कि देश में पहली बार उच्च शिक्षा संस्‍थाओं में छात्राओं ने छात्रों के मुकाबले ज्यादा संख्या में दाखिला लिया है। दादरा व नगर हवेली तथा दमन व दीव के प्राइमरी स्‍कूलों में नामांकन शत-प्रतिशत है। आप बाबासाहब डॉक्टर बी.आर. आंबेडकर की सोच के अनुरूप कार्य कर रहे हैं। उन्‍होंने कहा था कि 'यदि आप अपनी अगली पीढ़ी सुधारना चाहते हैं, तो आपको अपनी लड़कियों को भी शिक्षित करना होगा।

Updated : 2020-02-17T20:19:29+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top