Top
Home > देश > देश के स्वास्थ्य की तस्वीर बदलेगी आयुष्मान भारत योजना

देश के स्वास्थ्य की तस्वीर बदलेगी आयुष्मान भारत योजना

देश के स्वास्थ्य की तस्वीर बदलेगी आयुष्मान भारत योजना
X

नई दिल्ली। दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में छठे भारतीय जरा चिकित्सा व हड्डी रोग सम्मेलन को संबोधित करते हुए कार्यक्रम के मुख्य अतिथि व देश के गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की पहल पर आरंभ की गई स्वास्थ्य बीमा योजना 'आयुष्मान भारत' देश के स्वास्थ्य की तस्वीर को बदलकर रख देगी। गृहमंत्री ने कहा कि देश के गरीबों के लिए अभी तक किसी सरकार ने एेसी योजना नहीं लाई। मौजूदा सरकार ने देश के गरीबों के लिए इस योजना को लाकर साबित कर दिया है कि स्वास्थ्य की दृष्टि से अब देश में कोई गरीब नहीं रह जाएगा।

उल्लेखनीय है कि मौजूदा एनडीए सरकार की ओर से लागू उक्त योजना के आरंभ की घोषणा प्रधानमंत्री ने पिछले स्वतंत्रता दिवस पर दिल्ली स्थित लालकिले के प्राचीर से की थी। इस योजना के तहत गरीब परिवारों के सदस्यों के लिए प्रति वर्ष 5 लाख रुपये तक राशि के लिए स्वास्थ्य बीमा का प्रावधान रखा गया है।

इस मौके पर लोगों को संबोधित करते हुए स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने कहा कि अभी देश में स्वास्थ्य के क्षेत्र में प्रशिक्षित मानव संसाधन की किल्लत है| इस परिस्थिति को देखते हुए केंद्र सरकार मेडिकल शिक्षा को प्रोत्साहित करने का काम कर रही है। इसके तहत देश में 22 नए अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) खोलने की व्यवस्था की जा रही है।

स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के तहत देश में 22 एम्स खोलने की तैयारी चल रही है। इससे देश में व्याप्त चिकित्सा असंतुलन में को खत्म करने में मदद मिलेगी।

नड्डा ने कहा कि इन संस्थानों से पढ़ाई कर निकलने वाले डाक्टर देश के स्वास्थ्य की तस्वीर को बदलकर रख देंगे।

इस मौके पर एम्स के हृदय रोग विभाग के अध्यक्ष डा. वीके बहल ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की। साथ ही हड्डी रोग विभाग के अध्यक्ष राजेश मलहोत्रा, डा. एसएस अमरनाथ व डा. जॉन एबनेजर भी इस दौरान मौजूद थे।

Updated : 2018-09-07T19:43:37+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top