Home > देश > आम्बेडकर ने अपने जीवन से दिया अभाव और प्रभाव से विचलित नहीं होने का संदेश : मोदी

आम्बेडकर ने अपने जीवन से दिया अभाव और प्रभाव से विचलित नहीं होने का संदेश : मोदी

आम्बेडकर ने अपने जीवन से दिया अभाव और प्रभाव से विचलित नहीं होने का संदेश : मोदी
X

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को बाबा साहेब डॉक्टर भीमराव आम्बेडकर की 128वीं जयंती पर उन्हें नमन किया। मोदी ने सोशल मीडिया पर साझा किए एक वीडियो में कहा कि अभाव का रोना नहीं और प्रभाव से विचलित होना नहीं, यह मंत्र हर किसी के लिए ताकत बन जाता है। यह ताकत देने का काम बाबा साहेब आम्बेडकर ने हमें अपने जीवन से दिया है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि अति पिछड़े समाज से आने वाला यह आपका साथी यदि आज देश का प्रधानमंत्री भी है तो यह भी बाबा साहेब की देन है। उन्होंने कहा, बाबा साहेब आम्बेडकर पिछड़े वर्ग से जुड़े उन जैसे करोड़ों लोगों के लिए प्रेरणा हैं। उन्होंने हमें दिखाया कि आगे बढ़ने के लिए यह जरूरी नहीं है कि किसी बड़े या अमीर परिवार में ही आपका जन्म हो बल्कि भारत में गरीब और साधारण परिवार में जन्म लेने वाला भी सपने देख सकता है। उन्हें पूरा करने का प्रयास कर सकता है और इसमें उसे सफलता भी मिलती है। हां, ऐसा भी हुआ, जब बहुत से लोगों ने बाबा साहेब का मजाक उड़ाया। उन्हें पीछे करने की कोशिश के हर संभव प्रयास किए गए कि गरीब परिवार का बेटा आगे न बढ़ पाए, कुछ बन न जाए। जीवन में कुछ हासिल न कर पाए, लेकिन न्यू इंडिया की तस्वीर बिल्कुल अलग है। यह एक ऐसा इंडिया जो आम्बेडकर का, गरीबों का, पिछड़ों का है। जिस इंडिया की बात करता हूं, वह बाबा साहेब के भी सपनों का भारत है। सभी को समान अवसर और अधिकार, जाति-बंधन से मुक्त हमारा समाज, टेक्नालॉजी की हमारी शक्ति से आगे बढ़ता हुआ भारत है। सबका साथ, सबका विकास का भारत है। प्रधानमंत्री ने लोगों का आह्वान करते हुए कहा आइए बाबा साहेब के सपनों को पूरा करने का संकल्प करें। बाबा साहेब हमें 2022 तक संकल्पों की सिद्ध करने की शक्ति दें।

Updated : 14 April 2019 7:10 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top