Home > देश > प्रदर्शनों व मार्च को रोकने के लिए प्रशासन ने लाल चौक किया सील, यासीन मलिक गिरफ्तार

प्रदर्शनों व मार्च को रोकने के लिए प्रशासन ने लाल चौक किया सील, यासीन मलिक गिरफ्तार

प्रदर्शनों व मार्च को रोकने के लिए प्रशासन ने लाल चौक किया सील, यासीन मलिक गिरफ्तार
X

जम्मू/स्वदेश वेब डेस्क। जम्मू कश्मीर लिबरेशन फ्रंट के चेयरमैन यासीन मलिक को पुलिस ने मंगलवार सुबह लाल चौंक से गिरफ्तार कर लिया । कुलगाम विस्फोट में हुई मौतों के विरोध में अलगाववादी नेताओं के सांझा मंच जेआरएल ने मंगलवार को लाल चौंक मार्च का आहवान किया है। जेकेएलएफ के प्रवक्ता ने बताया कि मंगलवार सुबह जैसे ही यासीन मलिक लाल चौंक पहुंचे, उसी समय वहां मौजूद पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। कुलगाम मुठभेड़ स्थल पर रविवार को हुए एक विस्फोट में सात लोगों की मौत हो गई थी जिसके बाद जेआरएल ने सोमवार को कश्मीर बंद तथा मंगलवार को लाल चौक मार्च का आहवान किया था।

अलगाववादियों के लाल चौक मार्च आहवान को देखते हुए मंगलवार को प्रशासन ने श्रीनगर के लाल चौंक को सील कर दिया है। अलगावादियों के सांझा मंच जेआरएल द्वारा लाल चौक मार्च का आहवान कुलगाम विस्फोट में रविवार को हुई सात स्थानीय लोगों की मौत के विरोध में किया गया है।

श्रीनगर के अमीरा कदल तथा रिगल चौक से लाल चौक तक जाने वाले सभी रास्तों पर आवाजाही को रोकने के लिए कंटीले तारों को लगाया गया है। लाल चौंक से गुज़रने वाले सभी रास्तों पर रूट बदल दिया गया है और प्रदर्शनों को देखते हुए यहां पर किसी भी तरहं की आवाजाही पर रोक लगा दी गई है। घाटी के सभी संवेदनशील स्थानों पर अतिरिक्त सुरक्षाबलों को तैनात किया गया है। इसी दौरान दक्षिण कश्मीर से आने वाले यात्री वाहनों को अगले आदेश तक पंथाचौक की बजाय श्रीनगर नौगाम बाईपास के रास्ते शहर में दाखिल होने के निर्देश दिए गए हैं।

उल्लेखनीय है कि कुलगाम मुठभेड़ स्थल पर रविवार को हुए एक विस्फोट में सात लोगों की मौत हो गई थी जिसके बाद जेआरएल ने सोमवार को कश्मीर बंद तथा मंगलवार को लाल चौक मार्च का आहवान किया था।

Updated : 2018-10-24T23:42:00+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top