Top
Home > Archived > बाजवा के बदले सुर : शांति और बातचीत से चाहते हैं कश्मीर मुद्दे का हल

बाजवा के बदले सुर : शांति और बातचीत से चाहते हैं कश्मीर मुद्दे का हल

बाजवा के बदले सुर : शांति और बातचीत से चाहते हैं कश्मीर मुद्दे का हल

इस्लामाबाद। कश्मीर मुद्दे को लेकर भारत को नसीहत देने और धमकी भरे लहजे में बात करने वाले पाकिस्तानी सेना प्रमुख जनरल बाजवा के सुर बदल गए हैं। पाक सेना चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा ने कश्मीर मुद्दे का हल बातचीत और शांति से करने की वकालत की है। जनरल कमर जावेद बाजवा का यह बयान हैरान कर देने वाला है। जनरल बाजवा ने रक्षा दिवस के मौके पर आयोजित वार्षिक कार्यक्रम में कहा कि कश्मीर मुद्दे का हल राजनीतिक और कूटनीतिक स्तर पर होना चाहिए। इस कार्यक्रम में बाजवा ने कहा कि तरक्की के लिए शांति जरूरी है। साथ ही उन्होंने कहा कि दोनों देशों के लाखों लोगों की भलाई स्थाई शांति में ही है। बाजवा ने कहा कि भारत भी कश्मीर मुद्दे पर पाक की निंदा करने और कश्मीरियों पर सेना थोपने की जगह इस मुद्दे का राजनीतिक और कूटनीतिक स्तर पर समाधान ढूंढे।

बाजवा ने कहा कि दक्षिण एशिया में परमाणु हथियार हम नहीं लेकर आए। उन्होंने कहा कि हमारे परमाणु हथियार शांति बनाए रखने के लिए है। बाजवा ने भारत का नाम लिए बगैर कहा कि यह हमारा उस पडोसी देश को जवाब है, जो ताकत में कहीं आगे है। यह वही देश है, जो दक्षिण एशिया में एक गैर परंपरागत युद्ध लेकर आया है।

गौरतलब है कि वहीं आतंकवाद पर एक बार फिर बाजवा ने कहा कि हम अपनी नीति पर अडिग हैं और हम अपनी जमीन का इस्तेमाल किसी दूसरे देश के खिलाफ नहीं होने देंगे और दूसरे देशों से भी हम यही आशा रखते हैं। ज्ञातव्य है कि अभी दो दिन पहले ही पाकिस्तान के विदेश मंत्री ख्वाजा मोहम्मद आसिफ ने यह स्वीकार किया था कि इंटरनेशनल स्तर पर लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद जैसे प्रतिबंधित आतंकी संगठनों को पाकिस्तान में पनाह मिली हुई है।

Updated : 2017-09-09T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top