Top
Home > Archived > देश का पहला निजता के हनन का मामला, आशीष चतुर्वेदी ने ली उच्च न्यायालय की शरण

देश का पहला निजता के हनन का मामला, आशीष चतुर्वेदी ने ली उच्च न्यायालय की शरण

देश का पहला निजता के हनन का मामला, आशीष चतुर्वेदी ने ली उच्च न्यायालय की शरण
X

उच्च न्यायालय ने आईजी और पुलिस अधीक्षक को जारी किया नोटिस, मांगा जवाब

सर्वोच्च न्यायालय के आदेश बाद देश का पहला निजता के हनन का मामला

-फाइल फोटो

ग्वालियर/स्वदेश डिजिटल। व्यापमं फजीर्वाड़े का खुलासा करने वाले आरटीआई कार्यकर्ता आशीष चतुवेर्दी ने निजता के हनन को लेकर उच्च न्यायालय में पुलिस के खिलाफ याचिका प्रस्तुत की है। एकल पीठ की न्यायालय ने याचिका स्वीकार करते हुए ग्वालियर आईजी व पुलिस अधीक्षक को नोटिस जारी किया है और जवाब मांगा है। याचिका में आशीष ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि मेरी सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मी घर की वीडियों रिकॉर्डिंग करते हंै।

यहां तक कि वह 24 घंटे उसकी गतिविधियों को रिकॉर्डिंग करते हैं। पुलिस के व्यवहार से उसकी व्यक्तिगत स्वतंत्रता का हनन हो रहा है। शासकीय अधिवक्ता संगम जैन ने जानकारी देते हुए बताया कि न्यायालय ने याचिका स्वीकार करते हुए पुलिस अधिकारियों को नोटिस जारी कर जबाव के लिए समय दिया है। श्री जैन ने बताया कि पुलिस इसीलिए रिकॉर्डिंग कर रही है कि ताकि आशीष चतुर्वेदी यह न कह सके कि उनकी सुरक्षा में कोई भी पुलिस कर्मी तैनात नहीं है। यहां बता दें कि सर्वोच्च न्यायालय के आदेश के बाद देश का पहला निजता के हनन का मामला ग्वालियर खण्डपीठ में देखने को मिला है। यहां बता दें कि इससे पहले भी आरटीआई कार्यकर्ता ने अपनी सुरक्षा में तैनात गार्ड पर अभद्रता करने और संदिग्ध गतिविधियां करने का आरोप लगाया था।

***

और पढ़े : #सैमसंग R&D के पहले कर्मचारी दीपेश शाह से मिलिए, 22 साल पहले शुरु किया था सफर…अब हैं एमडी

Updated : 2017-09-09T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top