Top
Home > Archived > सिपाही ने बीच सड़क से लाइट हटाने को कहा तो मारपीट का लगाया आरोप

सिपाही ने बीच सड़क से लाइट हटाने को कहा तो मारपीट का लगाया आरोप

सिपाही ने बीच सड़क से लाइट हटाने को कहा तो मारपीट का लगाया आरोप

नगर पुलिस अधीक्षक ने सिपाही को लाइन हाजिर करने का दिया आश्वासन

ग्वालियर/स्वदेश डिजिटल। इंदरगंज थाना क्षेत्र के अंतर्गत गोल इलाके में शुक्रवार शाम को बीच सड़क पर लगी लाइट को हटवाने पहुंचे एक सिपाही पर स्थानीय महिलाओं ने मारपीट करने का आरोप लगा दिया, जिससे क्षेत्र में तनावपूर्ण स्थिति निर्मित हो गई। मौके पर पहुंचे नगर पुलिस अधीक्षक डीबीएस भदौरिया ने आरोपी सिपाही को लाइन हाजिर करने का आश्वासन दिया, तब कहीं जाकर मामला शांत हुआ।

प्राप्त जानकारी के अनुसार मोहर्रम के त्यौहार को लेकर गोल इलाके में रहने वाले कुछ मुस्लिम परिवारों ने सजावट करने के लिए सड़क के बीच में लाइट लगा ली थी। चूंकि बीते दिनों आयोजित हुई शांति समिति की बैठक के दौरान पुलिस अधीक्षक ने सड़क के बीच में किसी भी तरह की लाइट लगाए जाने की मनाही की थी, जिससे सड़क पर लगी उक्त लाइट की जानकारी जब क्षेत्रीय थाने के पुलिस कर्मियों को लगी तो उन्होंने शुक्रवार को सुबह वहां पहुंचकर उक्त लाइट को हटाने के लिए कहा। उस समय तो स्थानीय लोगों ने कह दिया था कि वह लाइट हटा देंगे, लेकिन जब शाम को दो पुलिसकर्मी वहां पुन: पहुंचे तो लाइन पूर्वत: बीच सड़क पर ही लगी हुई थी। इस पर सिपाही दिनेश शुक्ला ने स्थानीय लोगों से एक बार फिर सड़क से लाइट हटाने के लिए कहा तो लोग उससे उलझ गए। इसी दौरान हुई खींचतान में वहां खड़ी कुछ महिलाओं को धक्का लग गया तो वह सिपाही पर लठ्ठ से मारपीट करने का आरोप लगाने लगीं, जिससे वहां हंगामापूर्ण स्थिति निर्मित हो गई। स्थानीय महिला बतोलन बाई, गुड्डी बाई, हुसना बाई एवं नफीसा बाई ने अपने साथ सिपाही द्वारा मारपीट एवं अभद्रता करने के आरोप लगाए हैं। हंगामे की सूचना मिलते ही जहां थाने का समूचा पुलिस बल मौके पर पहुंच गया वहीं त्यौहारों के सीजन में हालात पर नियंत्रण बनाए रखने के उद्देश्य से नगर पुलिस अधीक्षक डीबीएस भदौरिया एवं थाना प्रभारी उमेश मिश्रा भी तत्काल मौके पर पहुंच गए। अधिकारीद्वय ने मौके की नजाकत को देखते हुए स्थानीय लोगों से शांति पूर्वक चर्चा की और उन्हें दोषियों के खिलाफ उचित कार्रवाई करने का भरोसा दिलाया। लोगों की मांग पर श्री भदौरिया ने आरोपी सिपाही को लाइन हाजिर करने का आश्वासन दिया है। उनके आश्वासन से क्षेत्र में शांति बहाल हो सकी।

इनका कहना है

‘‘विवाद जैसी कोई बात नहीं है। लाइट हटाने की बात पर थोड़ी बहस हो गई होगी। इस पर नगर पुलिस अधीक्षक ने आरोपी सिपाही को थाने से हटाने के आदेश दिए हैं।’’

उमेश मिश्रा, इंदरगंज थाना प्रभारी

Updated : 2017-09-23T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top