Home > Archived > आतंकियों के निशाने पर अवध, बढ़ी सुरक्षा

आतंकियों के निशाने पर अवध, बढ़ी सुरक्षा

आतंकियों के निशाने पर अवध, बढ़ी सुरक्षा
X

अमेठी/सुल्तानपुर। उत्तर प्रदेश के अमेठी ज़िले में चार दिन पूर्व अकालतख्त एक्सप्रेस ट्रेन में बम और लेटर मिलने से हड़कंप मच गया था। लेटर में साफ तौर पर लिखा था, ये दुजाना का बदला है। वैसे ये कोई पहला मामला नहीं है, बल्कि पांच महीने पहले इस इलाके से 50 किलोमीटर दूर सुल्तानपुर के बल्दीराय थाना क्षेत्र के नंदरई गांव में भी रेडियो ब्लास्ट की वारदात हुई थी। महिला समेत तीन लोग घायल हुए थे। ऐसे में ये कहा जा सकता है यूपी का अवध क्षेत्र अब आतंकी माड्यूल के निशाने पर है। एटीएस ने जांच शुरू कद दी है। इसके बावजूद स्थानीय पुलिस लापरवाह बनी हुई है।

बता दें कि ट्रेन में मिले बम के मामले में एडीजी रेलवे विजय कुमार मौर्य ने पूरे मामले की जांच एटीएस को सौंपी थी। इस मामले में अमेठी के पुलिस सूत्रों की मानें तो एटीएस की टीम ट्रेन मामले की जांच को सुल्तानपुर के बल्दीराय स्थित नंदरई गांव के रेडियो ब्लास्ट से जोड़ कर देख रही है। एटीएस का मानना है कि रेडियो ब्लास्ट था तो इंटेंसिटी ब्लास्ट, लेकिन तकनीकि रूप से वो खतरनाक बम था। जिसमें विस्पोटक पदार्थ का इस्तेमाल हुआ था। इसके बावजूद लोकल रेलवे और थानों की पुलिस की लापरवाही का आलम यह है कि जिस स्टेशन पर चार दिन पूर्व इतनी बड़ी वारदात हुई, वहां पुलिस सुरक्षा न के बराबर है। वो भी तब जब स्वतंत्रता दिवस के मौके पर राष्ट्र विरोधी ताकतें किसी भी साजिश को अंजाम देने के लिए मंसूबे बनाती चली आ रही हैं। लापरवाही का आलम यह है कि स्टेशन पर एक भी जीआरपी व आरपीएफ का जवान देखने को नहीं मिल रहा।

Updated : 2017-08-15T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top