Top
Home > Archived > डिजिटल पहचान देने पर ही बुक होगा हवाई टिकट

डिजिटल पहचान देने पर ही बुक होगा हवाई टिकट

डिजिटल पहचान देने पर ही बुक होगा हवाई टिकट

नई दिल्ली। देश में अगले तीन-चार महीनों में हवाई टिकट बुक कराने के लिए विशेष डिजिटल पहचान (यूनीक डिजिटल आईडी) दिखाना अनिवार्य होगा। नागरिक उड्डयन मंत्रालय डिजीयात्रा प्‍लेटफॉर्म के जरिये विमान यात्रियों को डिजिटल अनुभव कराने जा रहा है। इसके अलम में आने से कागज का हवाई यात्रा टिकट बीते दिनों की बात हो जाएगी। इसके लिए यात्रियों को विमान टिकट बुक कराते समय आधार, पैन या पासपोर्ट संख्या जैसी डिजिटल आइडेंटिफिकेशन जानकारियां साझा करनी होंगी।

नागरिक उड्डयन राज्‍य मंत्री जयंत सिन्‍हा ने गुरुवार को ‘डिजीयात्रा’ पर रिपोर्ट पेश करते हुए यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि मंत्रालय ने एक तकनीकी समिति का गठन किया है, जिसमें उद्योग जगत के हितधारक शामिल हैं। यह समिति 30 दिन के अंदर अपनी सिफारिशें पेश करेगी। इन सिफारिशों पर आम जनता की टिप्‍पणियां भी प्राप्‍त की जाएंगी और इन पर अगले 30 दिनों तक परिचर्चाएं होंगी। इसके बाद एक समयबद्ध कार्ययोजना तैयार की जाएगी।

सिन्‍हा ने कहा कि विमान यात्री अपने सफर की योजना बेहतर ढंग से बना पाएंगे, क्‍योंकि उन्‍हें विमान किरायों के रुख के बारे में जानकारी होगी और इसके साथ ही वे टिकट बुकिंग के समय भावी किरायों के बारे में अनुमान लगा सकेंगे। विमान यात्री हवाई अड्डे में अपने त्‍वरित प्रवेश के साथ-साथ बगैर किसी कागजी कार्रवाई के स्‍वत: चेक-इन सुनिश्चित करने के लिए टिकट बुकिंग के समय स्‍वेच्‍छापूर्वक एयरलाइंस एवं इस परितंत्र की अन्‍य एजेंसियों से अपने आधार नम्‍बर को लिंक कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि उन्‍नत बायोमैट्रिक सुरक्षा व्‍यवस्‍था होने के परिणाम स्वरूप विमान यात्रीगण सिक्‍योरिटी स्‍कैनर से काफी तेजी से गुजर सकेंगे। इसके अलावा वह अपनी शिकायतें दर्ज करा सकेंगे, अनुभव साझा कर सकेंगे और इसके साथ ही आवश्‍यक सुझाव (फीडबैक) भी दे सकेंगे।

Updated : 2017-06-09T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top