Top
Home > Archived > कपिल का दावा, केजरीवाल ने सत्येंद्र जैन से लिए 2 करोड़ रुपए

कपिल का दावा, केजरीवाल ने सत्येंद्र जैन से लिए 2 करोड़ रुपए

कपिल का दावा, केजरीवाल ने सत्येंद्र जैन से लिए 2 करोड़ रुपए

नई दिल्ली। दिल्ली सरकार से बागी हुए कपिल मिश्रा ने राजघाट पर प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि आप पार्टी उनकी पार्टी है। कड़े संघर्ष के बाद उन्होंने पार्टी को खड़ा किया है। कोई भी शख्स उन्हें पार्टी से बाहर नहीं निकाल सकता है। राजघाट पर टैंकर घोटाले का खुलासा करते हुए कपिल ने कहा कि उन्होंने मंत्री पद की शपथ लेते ही केजरीवाल को इस घोटाले की रिपोर्ट सौंपी थी लेकिन सीएम ने उस पर कार्रवाई नहीं की।
राजघाट पर प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करने से पहले कपिल मिश्रा ने दिल्ली के उप राज्यपाल अनिल बैजल से मुलाकात की। बैजल से मुलाकात के दौरान कपिल मिश्रा एक फाइल लेकर पहुंचे थे। कयास लगाए जा रहे हैं कि इस फाइल में टैंकर घोटाले से जुड़े दस्तावेज हो सकते हैं।

मिश्रा ने यह सनसनीखेज दावा भी किया कि सत्येंद्र जैन ने उन्हें बताया था कि उन्होंने केजरीवाल के एक सगे रिश्तेदार के लिए 50 करोड़ की लैंड डील करवाई है। कपिल ने कहा कि पहले उन्हें लगता था कि केजरीवाल ईमानदार हैं, लेकिन इस पैसे के बारे में पूछने पर उन्होंने कोई जानकारी नहीं दी।

राजघाट में प्रेस कॉन्फ्रेंस में कपिल ने कहा, परसों सत्येंद्र जैन ने अरविंद केजरीवाल जी को मेरे सामने पैसे दिए। मैंने जब उनसे इस पैसे के बारे में पूछा तो उन्होंने जवाब देने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि राजनीति में कुछ बातें होती हैं जो बताई नहीं जा सकतीं।

मैंने यह भी पूछा कि पैसा कहां से आया, नगद पैसा क्यों था...इस संबंध में सारे पैसे की जानकारी दें। मैंने केजरीवाल से कहा कि गलती किसी से भी हो सकती है, आप माफी मांगिए। मैंने उन्हें यह भी कहा कि यह बात मुझे एसीबी को बतानी होगी। इसके बाद विधायकों की मीटिंग भी हुई। मुझे लगा कि वह इस बारे में चर्चा करेंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

कपिल ने आगे कहा, ब्लैक मनी और मनी लॉन्ड्रिंग के बारे में सत्येंद्र जैन को लेकर कई मामले हैं, जो सबको मालूम हैं। उन्होंने सरकार में अपनी बेटी को, रिश्तेदारों को पद दिए। सत्येंद्र जैन ने मुझे बताया था कि अरविंद केजरीवाल के किसी सगे रिश्तेदार के लिए उन्होंने 50 करोड़ की जमीन की डील करवाई है। अपनी आंखों से कैश देखने के बाद चुप रहना संभव नहीं था...मैं चुप नहीं रहूंगा, चाहे प्राण चले जाएं।

Updated : 2017-05-07T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top