Top
Home > Archived > हेलो, मैं डीएम ऑफिस से बोल रहा हूं, अपने गांव में बिजली नहीं आ रही है क्या?

हेलो, मैं डीएम ऑफिस से बोल रहा हूं, अपने गांव में बिजली नहीं आ रही है क्या?

हेलो, मैं डीएम ऑफिस से बोल रहा हूं, अपने गांव में बिजली नहीं आ रही है क्या?
X

गोरखपुर। हेलो, मैं डीएम।ऑफिस गोरखपुर से बोल रहा हैं। आपका नाम क्या है... क्या आपके वहां बिजली से जुडी कोई समस्या है...एक्सईएन साहब से बात हुई है क्या...आपको फोन से बात करने के शिवाय मिलना चाहिए। मिले हैं...?
कुछ इसी तरह की बाते गोरखपुर के डीएम राजीव रौतेला के कैम्प कार्यालय से हो रही हैं। ये वे लोग हैं, जिन्होंने डीएम राजीव रौतेला के सीयूजी नंबर पर समस्याओं से जुडी शिकायते की हैं। बिजली विभाग, लोक निर्माण विभाग, सेल टैक्स, खाद्य एवं विपणन, सिंचाई, कृषि विभाग आदि के सरकारी मुलाजिमों की लापरवाही की शिकायतें दर्ज कराई हैं। अब इन शिकायतों का निपटारा जिलाधिकारी राजीव रौतेला अपने तरीके से करवा रहे हैं।

योगी आदित्यनाथ के सीएम की कुर्सी संभालने के बाद गोरखपुर के लोगों की शिकायतों को गंभीरता से लिया जाने लगा है। अब यहाँ के लोगों की सुनी जाने लगीं हैं। हालाँकि डीएम के इस कार्य की समीक्षा लोग अपने-अपने तरीके से कर रहे हैं। बावजूद इसके डीएम के कार्य की सराहना हो रही है।

कइयों का कहना है अगर योगी आदित्यनाथ डीएम नहीं होते तो यह सुनवाई भी नहीं होती। पहले की सरकारों की तरह इस सरकार में भी आम आदमी उपेक्षित ही रहता। अब तो कम से कम इनकी सुनी तो जा रही है।

Updated : 2017-05-30T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top