Top
Home > Archived > केडी हास्पिटल मेेंलगा स्वास्थ्य शिविर

केडी हास्पिटल मेेंलगा स्वास्थ्य शिविर

लम्बे समय तक डिप्रेशन में रहना खतरनाक-डा. गौरव सिंह

मथुरा। केडी मेडिकल कालेज-हास्पिटल एण्ड रिसर्च सेण्टर के सामुदायिक चिकित्सा विभाग द्वारा विश्व स्वास्थ्य दिवस पर शुक्रवार को अपने रूरल सेण्टर रान्हेरा में नि:शुल्क चिकित्सा शिविर का आयोजन किया गया। इस अवसर पर विशेषज्ञ मनोरोग चिकित्सक डा. गौरव सिंह ने उपस्थित ग्रामीणों को डिप्रेशन (अवसाद) के कारण और उसके निवारण पर विस्तार से जानकारी दी। लम्बे समय तक डिप्रेशन में रहना काफी खतरनाक साबित हो सकता है लिहाजा इसका समय से उपचार जरूरी है। स्वास्थ्य जागरूकता शिविर का शुभारम्भ ग्राम पंचायत रान्हेरा के प्रधान राजकुमार सिसोदिया, शिविर संयोजक डा. गगन सिसौदिया ने माँ सरस्वती के सम्मुख दीप प्रज्वलित कर किया।

मनोरोग चिकित्सक डा. गौरव सिंह ने कहा कि दरअसल, अवसाद एक सामान्य मनोरोग है जिसके कुछ निश्चित लक्षण होते हैं जो व्यक्ति के विचारों, भावनाओं, व्यवहार और उसके कार्य प्रदर्शन को प्रभावित करते हैं और अत्यंत गम्भीर मामलों में उसकी मृत्यु तक हो सकती है। किसी बुरी घटना या परिस्थिति पर उदास होना स्वाभाविक है लेकिन यदि यही उदासीनता लम्बे समय तक बनी रहे और सामान्य जीवन और स्वास्थ्य को बाधित करे तो इसका इलाज जरूरी हो जाता है।

स्वास्थ्य जागरूकता शिविर के बाद केडी मेडिकल कालेज की मेडिसिन विशेषज्ञ डा. गगन सिसौदिया, मनोरोग विशेषज्ञ डा. गौरव सिंह, शल्य चिकित्सक डा. वरुण सिसौदिया, नेत्र रोग विशेषज्ञ डा. ज्योत्सना शर्मा, नाक-कान-गला रोग विशेषज्ञ डा. पीयूष कांत आदि ने मरीजों का परीक्षण कर उन्हें नि:शुल्क दवाएं वितरित कीं। शिवराज सिंह, विष्णु, शेखर, प्रीति, मुकेश, सुभाष आदि ने शिविर में सहयोग प्रदान किया।

आरके एजूकेशन हब के चेयरमैन डा. रामकिशोर अग्रवाल, प्रबंध निदेशक मनोज अग्रवाल, प्राचार्य डा. मंजुला बाई केएच सामुदायिक चिकित्सा विभाग के विभागाध्यक्ष डा. ओमप्रकाश अग्रवाल आदि ने कहा कि केडी मेडिकल कालेज-हास्पिटल एण्ड रिसर्च सेण्टर लगातार नि:शुल्क चिकित्सा शिविरों के माध्यम से जनपद और उसके आसपास के ग्रामीणों को लाभान्वित कर रहा है। यह सेवाभावी कार्य अनवरत जारी रहेगा ताकि चिकित्सा के अभाव में किसी को भी परेशानी का सामना नहीं करना पड़े।

Updated : 2017-04-08T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top