Latest News
Home > Archived > भुवनेश्वर के लिंगराज मंदिर पहुंचे मोदी, स्वतंत्रता सेनानियों के परिजनों का किया सम्मान

भुवनेश्वर के लिंगराज मंदिर पहुंचे मोदी, स्वतंत्रता सेनानियों के परिजनों का किया सम्मान

भुवनेश्वर के लिंगराज मंदिर पहुंचे मोदी, स्वतंत्रता सेनानियों के परिजनों का किया सम्मान
X

भुवनेश्वर| भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के दूसरे दिन रविवार को देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भुवनेश्वर के लिंगराज मंदिर पहुंचे जहां उन्होंने पूजा अर्चना की।लिंगराज मंदिर भुवनेश्वर का सबसे बड़ा मंदिर है और ये प्राचीनतम मंदिरों में से एक है। इसके बारे में मान्यता है कि लिट्टी और वसा नाम के दो भयंकर राक्षसों का वध देवी पार्वती ने यहीं पर किया था।

संग्राम के बाद उन्हें प्यास लगी, तो शिवजी ने कूप बनाकर सभी पवित्र नदियों को योगदान के लिए बुलाया। यहीं पर बिन्दूसागर सरोवर है और उसके पास ही लिंगराज का विशालकाय मन्दिर है।

लिंगराज मंदिर जाने से पहले पीएम मोदी ओडिशा के राजभवन पहुंचे। यहां पर उन्होंने राजभवन में स्वतंत्रता सेनानियों के परिजनों को सम्मानित किया। कार्यक्रम में आजादी की लड़ाई के दौरान ओडिशा विद्रोह से जुड़े परिवारों को सम्मानित किया गया।

इस मौके पर मोदी ने कहा कि अंग्रेजों के खिलाफ लड़ाई लड़ने का बीड़ा जनजाति के लोगों ने उठाया था। उनका योगदान अप्रतिम है। उन्होंने कहा की भारत सरकार ने योजना बनाई है कि देश 50 प्रमुख स्थानों पर जनजातीय लोगों ने आजादी के आंदोलन में जो योगदान दिया है उसको वर्चुअल म्यूजियम के जरिए पुनर्जीवित किया जाए।

Updated : 2017-04-16T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top