Top
Home > Archived > सीबीआई जांच के बाद नपेंगे कई अधिकारी

सीबीआई जांच के बाद नपेंगे कई अधिकारी

मथुरा। हाईकोर्ट द्वारा जवाहर बाग कांड की सीबीआई जांच के आदेश के बाद शहीद एसपी सिटी मुकुल द्विवेदी के भाई प्रफुल्ल द्विवेदी का कहना है कि जवाहरबाग कांड अफसरों की लापरवाही का नतीजा है। इसके लिए जिम्मेदार सभी अफसरों को जेल होनी चाहिए।

श्री द्विवेदी ने कहा कि हमें अदालत से न्याय की उम्मीद थी, जो मिला है। सीबीआई जांच के बाद हकीकत खुलकर सामने आएगी। किसकी क्या गलती थी, सब उजागर होगा। प्रफुल्ल ने बताया कि लापरवाह अफसरों ने हमारा हंसता-खेलता परिवार उजाड़ दिया। उन्होने बताया कि उनके पास भी कई जरूरी दस्तावेज हैं जो वो सीबीआई को सौंपेंगे। सीबीआई की जांच में अफसरों पर कार्यवाही होना तय है। हिंसा के बाद डीएम और एसएसपी का केवल तबादला किया गया। तबादला क्या कोई सजा होती है।

बताते चलें कि सरकार द्वारा कराई जा रही न्यायिक आयोग के समक्ष अब तक 433 लोगों की गवाही हो चुकी है। इनमें वह पुलिस वाले भी हैं जो जवाहरबाग को खाली कराने के लिए गए थे। न्यायिक आयोग 2 जून, 2016 से इस मामले की जांच कर रहा है। दो दफा जांच पूरी करने की अवधि भी बढ़ चुकी है। अब मार्च तक न्यायिक आयोग को जांच पूरी करके रिपोर्ट शासन को सौंपनी है। न्यायिक आयोग ने भी उन अधिकारियों को नोटिस भेजे हैं जो मथुरा में तैनात रह चुके हैं। जवाहरबाग कांड के मास्टर माइंड रामवृक्ष यादव की मौत की वैज्ञानिक पुष्टि आज तक नहीं हो पाई है। हाईकोर्ट के आदेश पर रामवृक्ष के बेटों को ढूंढकर उनके ब्लड का सैंपल लिया गया था। सैंपल जांच के लिए लखनऊ प्रयोगशाला भेजा गया। मगर अभी तक रिपोर्ट नहीं आ सकी है।

रपोर्ट आने के बाद ही पता चलेगा कि रामवृक्ष मर चुका है या नहीं।

Updated : 2017-03-05T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top