Home > Archived > इससे भी प्रसन्न होते हैं भगवान..

इससे भी प्रसन्न होते हैं भगवान..

इससे भी प्रसन्न होते हैं भगवान..
X

भगवान को मौसमी फल अर्पण करना ही चाहिए। ऐसा कहा जाता है कि जो भी मौसमी फल घर में पहली बार आए, उसे भगवान को अर्पित करने के बाद ही ग्रहण करना चाहिये, ऐसा करने से भगवान की प्रसन्नता बनी रहती है। इसलिये यदि घर में मौसमी फल लाये जाये तो सबसे पहले भगवान को अर्पित करें।


जो लोग आस्थावान है वे इस बात को अच्छी तरह से जानते और समझते है कि चाहे नई वस्तु हो या फिर नये वस्त्र, भगवान को चढाकर ही उपयोग में लाया जाना चाहिये तो फिर मौसमी फल भी क्यों नहीं। मौसमी फल पहले भगवान को चढ़ाये और फिर ग्रहण करें तो प्रसाद सा अहसास ही नहीं बल्कि आनंद भी दुगना हो जायेगा।

Updated : 2017-03-30T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top