Top
Home > Archived > हमने स्लीपर के पैसे दिए हैं तो जनरल कोच में क्यों जाएं

हमने स्लीपर के पैसे दिए हैं तो जनरल कोच में क्यों जाएं

हमने स्लीपर के पैसे दिए हैं तो जनरल कोच में क्यों जाएं

-बरौनी मेल व इन्दौर इंटरसिटी में स्लीपर की जगह लगाए सामान्य कोच, भ्रमित हुए यात्री
ग्वालियर। रेल प्रबंधन कोचों की कमी से जूझ रहा है। इस वजह से यात्रियों को प्रतिदिन परेशान होना पड़ता है। नए कोच न होने से प्रबंधन को पुराने दूसरे कोच लगाकर ट्रेनों का संचालन करना पड़ रहा है। सबसे ज्यादा परेशानी इन्दौर इंटरसिटी और बरौनी मेल में आ रही है। इसके चलते स्टेशन पर यात्रियों ने जमकर हंगामा किया।

सोमवार को ग्वालियर रेलवे स्टेशन पर बरौनी मेल के यात्रियों ने स्लीपर कोच की जगह सामान्य कोच लगाए जाने पर हंगामा कर दिया। प्लेटफॉर्म पर यात्रियों द्वारा हंगामा किए जाने की खबर लगने पर आरपीएफ व जीआरपी ने मौके पर पहुंचकर स्थिति को संभाला और यात्रियों को समझाकर मामले को शांत कराया। यात्रियों का कहना था कि जब हमने स्लीपर कोच के पैसे दिए हैं तो हम लोग सामान्य कोच में यात्रा क्यों करें। सोमवार को रेलवे ने बरौनी मेल में एस-11 की जगह सामान्य कोच लगाकर उस पर कागज का टुकड़ा चिपकाकर एस-11 लिख दिया था। वहीं ग्वालियर से इन्दौर जाने वाली इन्दौर इंटरसिटी में भी यात्रियों ने हंगामा किया।

इन्दौर इंटरसिटी के यात्रियों ने भी किया हंगामा:- सोमवार को ग्वालियर से इन्दौर जाने वाली इन्दौर इंटरसिटी एक्सप्रेस में कोच एस-8 की जगह सामान्य कोच लगने से यात्रियों ने जकर हंगामा किया। हंगामे की सूचना मिलते ही आरपीएफ के जवान मौके पर पहुंचे और यात्रियों को समझाकर मामले को शांत कराया।

बदले हुए कोच में करें यात्रा तो लें रिफंड:- रेलवे की इस प्रकार की गलतियों का खामियाजा एक सप्ताह से यात्रियों को भुगतना पड़ रहा है। कोच नहीं होने के बाद भी लगातार बुकिंग की जा रही है। इस तरह की परेशानी इन्दौर इंटरसिटी के यात्रियों को ज्यादा भुगतना पड़ रही है। यदि यात्री का कोच यात्रा के दौरान बदल दिया जाता है तो यात्री रेलवे से इसका रिफंड ले सकते हैं। बताया गया है कि ग्वालियर स्टेशन के कोचों को मेंटेनेंस के लिए पीओएच के लिए भेजा गया है। इस वजह से यह परेशानी हो रही है।

ऐसे ले सकते हैं रिफंड

यदि कोई यात्री बदले हुए कोच में यात्रा नहीं करना चाहता है तो वह आरक्षण कार्यालय में जाकर टिकट वापस कर सकता है। इसके अलावा यदि यात्री यात्रा करना चाहता है तो जहां यात्री को जाना है, उस स्टेशन पर उतरकर अपना रिफंड रेलवे से वापस ले सकता है, लेकिन इसके लिए यात्री को यात्रा के दौरान कोच के टीटीई से टिकट पर यह लिखवाकर लेना होगा कि ट्रेन में कोच बदला गया है। ट्रेन के कोच बदलने का अनाउंसमेंट तो रेलवे करवा रहा है, पर यात्रियों को किस कोच में बैठना है। इसका अनाउंस नहीं किया जाता है।

Updated : 2017-10-03T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top