Top
Home > Archived > सीएम शिवराज की यूसए यात्रा रही सफल, रविवार लौटेंगे स्वदेश

सीएम शिवराज की यूसए यात्रा रही सफल, रविवार लौटेंगे स्वदेश

सीएम शिवराज की यूसए यात्रा रही सफल, रविवार लौटेंगे स्वदेश


भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इन दिनों अमेरिका के प्रवास पर हैं। एक सप्ताह की उनकी अमेरिका यात्रा सफल रही है। सीएम शिवराज की अमेरिका यात्रा से अप्रवासी भारतीयों का मध्यप्रदेश से रिश्ता मजबूत हुआ है। साथ ही कई उद्योग समूहों और कंपनियों ने मध्यप्रदेश की प्रगति की सराहना करते हुए यहां निवेश करने की इच्छा जताई है। अमेरिका प्रवास के बाद मुख्यमंत्री रविवार, 29 अक्टूबर को स्वदेश लौट रहे हैं। वे रविवार को दोपहर बाद मुम्बई पहुंचेंगे और मुम्बई से शासकीय वायुयान से शाम पांच बजे तक भोपाल आएंगे।

उल्लेखनीय है कि सीएम शिवराज को पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जन्म-शताब्दी के अवसर पर भारतीय दूतावास के सहयोग से फाउंडेशन फॉर इंडिया एण्ड इंडिया डायसपोरा स्ट्डीज यूएसए द्वारा पं. दीनदयाल उपाध्याय फोरम का शुभारंभ सत्र को संबोधित करने के लिये विशेष रूप से आमंत्रित किया गया था। वे 22 अक्टूबर को अमरिका के प्रवास पर वाशिंगटन डीसी पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने मध्यप्रदेश में निवेश करने की इच्छुक कई कंपनियों से भी चर्चा की। यू.एस. इंडिया बिजनेस स्ट्रैटेजिक फोरम के सौजन्य से मध्यप्रदेश में निवेश में रूचि लेने वाली उद्योगपतियों और उद्योग समूहों के प्रतिनिधियों से भी चर्चा की और उन्हें प्रदेश आमंत्रित किया।

दीनदयाल उपाध्याय फोरम के शुभारंभ सत्र में मुख्यमंत्री ने कहा कि विश्व समाज में मनुष्य की आंतरिक शक्ति और शांति छिन्न- भिन्न हो गई है। ऐसी स्थिति में पण्डित दीनदयाल उपाध्याय का एकात्म मानववाद और ज्यादा प्रासंगिक हो गया है। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में गरीबों का उत्थान करने के लिये बनाई गई रणनीतियां और विकास कार्यक्रम पण्डित दीनदयाल उपाध्याय के एकात्म मानववाद के दर्शन से प्रेरित हैं।

महिला सशक्तीकरण की सराहना

मध्यप्रदेश में महिलाओं को सशक्त बनाने के किये गये प्रयासों को रेखांकित करते हुए सीएम शिवराज ने कहा कि अब बेटियों को बोझ नहीं माना जाता। लोगों की मानसिकता बदली है। महिलाओं को अधिकार सम्पन्न बनाने में मध्यप्रदेश बहुत आगे निकल गया है। यूनाईटेड स्टेट कांग्रेस की पहली हिन्दू सदस्य तुलसी गबार्ड ने महिला सशक्तीकरण के नवाचारी प्रयासों के लिये मुख्यमंत्री चौहान की सराहना की। उन्होंने विश्व के सबसे बड़े नदी संरक्षण अभियान नर्मदा सेवा यात्रा के संबंध में भी अप्रवासी भारतीयों को बताया और इसके महत्व पर चर्चा की।

वाशिंगटन में अमेरिका भारत रणनीतिक सहभागिता फोरम के अंतर्गत आयोजित बिजनेस सेमीनार में सीएम शिवराज ने कहा कि मध्यप्रदेश की नई औद्योगिक नीति पूरी तरह से उद्योग मित्र है। उन्होंने कहा कि औद्यागिक विकास के लिये जरूरी सभी अधोसंरचनाएं उपलब्ध हैं। किसानों की आय को दो गुनी करने की रणनीति अमल में लाई जा रही है। इसी बीच वे न्यू जेरेसी स्थित स्वामीनारायण मंदिर पहुंचे और मध्यप्रदेश की सुख शांति और समृद्धि के लिये प्रार्थना की। उन्होंने न्यूयार्क विश्वविद्यालय के ब्रूकलीन परिसर में टंडन स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग के नवाचार और उद्यमिता इन्क्यूबेशन सेंटर का भ्रमण किया। उन्होंने ऐसा ही इन्क्यूबेशन सेंटर मध्यप्रदेश के विश्वविद्यालयों के परिसर में स्थापित करने की संभावनाओं पर भी चर्चा की और न्यूयार्क विश्वविद्यालय से ज्ञान एवं प्रौद्योगिकी उपलब्ध कराने में सहयोगी की भूमिका निभाने का भी आग्रह किया।

4- 5 जनवरी को 'फ्रेंडस ऑफ एमपी' समिट

मुख्यमंत्री ने कांस्यूलेट जनरल आफ इंडिया न्यूयार्क में आयोजित 'फ्रेंडस ऑफ एमपी' सेमीनार में कहा कि प्रदेश में चार और पांच जनवरी 2018 को 'फ्रेंडस ऑफ एमपी' समिट का आयोजन किया जायेगा। उन्होंने 'फ्रेंडस ऑफ एमपी' फोरम की गतिविधियों को आगे बढ़ाने में योगदान देने के लिये न्यूयार्क और न्यू जेरेसी क्षेत्र में निवासरत अप्रवासी भारतीयों का अभिनंदन किया। इसके अलावा उन्होने प्रदेश के विकास को और गति देने के लिये विशेषज्ञों, न्यूयार्क होटल एसोसियेशन के मुख्यकार्यपालन अधिकारी विजय दण्डपानी, एमआईटी के प्रोफेसर गुरूमूर्ति कल्याणराम और कोलंबिया विश्वविद्यालय के प्रतिनिधिमंडल से भी चर्चा की।

Updated : 2017-10-28T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top