Top
Home > Archived > बांग्लादेश ने सीमाओं पर बढ़ाई सुरक्षा, रोहिंग्या पर रखेगा नजर

बांग्लादेश ने सीमाओं पर बढ़ाई सुरक्षा, रोहिंग्या पर रखेगा नजर

बांग्लादेश ने सीमाओं पर बढ़ाई सुरक्षा, रोहिंग्या पर रखेगा नजर

ढाका। बांग्लादेश ने भारत के साथ सटी अपनी पश्चिमी सीमा पर सैकड़ों रोहिंग्या शरणार्थियों के देश में घुसने की आशंका के मद्देनजर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी है। यह जानकारी सोमवार को मीडिया रिपोर्ट से मिली।

बांग्लादेश की वेबसाइट बीडी न्यूज 24 के अनुसार, भारत के पश्चिम बंगाल राज्य से लगी हुई बांग्लादेश की सीमा पर गश्त बढ़ा दी गई है। सीमा की निगरानी करने वाले सुरक्षाकर्मियों का कहना है कि उन्हें हाल के सप्ताह में आदेश दिया गया है कि वे बांग्लादेश में रोहिंग्याओं के प्रवेश पर नजर रखें।

बांग्लादेश बॉर्डर गार्ड के एरिया कमांडर तरिकुल हकीम ने कहा कि पुतखाली सीमा चौकी पर रोहिंग्याओं की मौजूदगी दिख सकती है, क्योंकि यहां सिर्फ एक छोटी सी नदी दोनों को एक-दूसरे से अलग करती है। उन्होंने कहा, “ हमने निगरानी और गश्त बढ़ा दी है ताकि कोई रोहिंग्या हमारे क्षेत्र में प्रवेश नहीं कर सके।”

उधर, बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना के मीडिया सलाहकार इकबाल सोभन चौधरी ने कहा कि रोहिंग्या शरणार्थियों के एक तबके के आतंकी संपर्कों की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि उनका देश किसी भी समूह को अपनी जमीन का इस्तेमाल आतंकी गतिविधियों के लिए नहीं करने देगा।

चौधरी ने कहा कि बांग्लादेश पहले ही आतंकवाद को बर्दाश्त नहीं करने की अपनी नीति घोषित कर चुका है। उन्होंने कहा कि बांग्लादेश को म्यांमार में मुस्लिमों के ‘‘जातीय सफाए’’ पर भारत द्वारा कोई रुख अपनाए जाने की उम्मीद है।

विदित हो कि म्यांमार से भागकर आए लाखों शरणार्थियों को बांग्लादेश ने शरण दी है।बांग्लादेश के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा है कि बांग्लादेश ने आर्थिक व जनसांख्यिकीय समस्या और म्यांमार के साथ लंबे समय से विवाद के बावजूद 10 लाख परेशानहाल विस्थापित रोहिंग्या लोगों को रहने के लिए आश्रय दिया है।

Updated : 2017-10-16T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top