Top
Home > Archived > सार्क में हिस्सा नहीं लेंगे मोदी, अब बांग्लादेश, भूटान, अफगानिस्तान का भी इनकार

सार्क में हिस्सा नहीं लेंगे मोदी, अब बांग्लादेश, भूटान, अफगानिस्तान का भी इनकार

सार्क में हिस्सा नहीं लेंगे मोदी, अब बांग्लादेश, भूटान, अफगानिस्तान का भी इनकार

नई दिल्ली | पाकिस्तान को एक और झटका देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार रात फैसला किया कि वह इस्लामाबाद में नवंबर में होने वाले सार्क शिखर सम्मेलन में भाग नहीं लेंगे। इसके बाद इस आठ सदस्यीय समूह के तीन और देशों बांग्लादेश, भूटान और अफगानिस्तान ने भी शिखर सम्मेलन में शामिल नहीं होने का फैसला किया है और कहा है कि बैठक को सफलतापूर्वक आयोजित करने के लिए माहौल सही नहीं है। सूत्रों ने बताया कि बांग्लादेश और भूटान ने कल अपने फैसले से दक्षेस अध्यक्ष नेपाल को अवगत करा दिया। सूत्रों ने बताया कि बांग्लादेश और भूटान ने कल अपने फैसले से दक्षेस अध्यक्ष नेपाल को अवगत करा दिया।

बांग्लादेश द्वारा भेजे गए पत्र में कहा गया है, ‘बांग्लादेश के अंदरूनी मामलों में एक देश के बढ़ते हस्तक्षेप ने ऐसा माहौल उत्पन्न कर दिया है जो नवंबर 2016 में इस्लामाबाद में 19वें दक्षेस शिखर सम्मेलन के सफल आयोजन के लिए उपयुक्त नहीं है।’ इसने कहा, ‘दक्षेस प्रक्रिया के आरंभकर्ता के रूप में बांग्लादेश क्षेत्रीय सहयोग, कनेक्टिविटी और संपर्कों के प्रति अपनी प्रतिबद्धता पर अटल है, लेकिन उसका मानना है कि ये चीजें एक सुखद माहौल में ही आगे बढ़ सकती हैं। उपरोक्त के मद्देनजर बांग्लादेश इस्लामाबाद में प्रस्तावित शिखर सम्मेलन में भाग लेने में असमर्थ है।’

इससे पहले भारत ने फैसला किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस्लामाबाद में नवंबर में होने वाले दक्षेस शिखर सम्मेलन में भाग नहीं लेंगे। इस फैसले की घोषणा करते हुए भारत ने देर रात कहा कि ‘एक देश’ ने ऐसा माहौल बना दिया है जो शिखर सम्मेलन के सफल आयोजन के अनुकूल नहीं है।

विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘भारत ने दक्षेस के मौजूदा अध्यक्ष नेपाल को अवगत करा दिया है कि क्षेत्र में सीमा पार से आतंकवादी हमलों में वृद्धि और एक देश द्वारा सदस्य देशों के आंतरिक मा
में बढ़ते हस्तक्षेप ने ऐसा वातावरण बना दिया है जो 19वें दक्षेस सम्मेलन के सफल आयोजन के अनुकूल नहीं है।’

Updated : 2016-09-28T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top