Home > Archived > आज से दो दिन तक सत्ता व संगठन का केन्द्र रहेगा ग्वालियर

आज से दो दिन तक सत्ता व संगठन का केन्द्र रहेगा ग्वालियर

आज से दो दिन तक सत्ता व संगठन का केन्द्र रहेगा ग्वालियर
X

केन्द्र व राज्य के कई मंत्री और राजनेताओं का रहेगा जमावड़ा

ग्वालियर। ग्वालियर में 28 व 29 सितम्बर को भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश कार्यसमिति की दो दिवसीय बैठक के चलते दो दिन तक ग्वालियर शहर सत्ता व संगठन का केन्द्र बना रहेगा। इस बैठक में भाग लेने के लिए भाजपा के राष्ट्रीय और प्रदेश पदाधिकारियों के अलावा केन्द्र व राज्य के मंत्रियों के आने का सिलसिला गत सोमवार से ही शुरू हो गया है। शेष राजनेता और मंत्रीगण बुधवार सुबह तक ग्वालियर पहुंच जाएंगे। इसके बाद दो दिनों तक यहां मंत्रियों और राजनेताओं का जमावड़ा लगा रहेगा।

प्रदेश कार्यसमिति बैठक में शामिल होने आ रहे मंत्रियों और राजनेताओं के स्वागत में कार्यकर्ताओं ने ग्वालियर महानगर के बाजारों, चौराहों और सड़कों पर भगवा पताकाओं और बंदनवारों से इन्द्रधनुषी छटा बिखरे दी है। अब सबकी निगाहें मुरार स्थित प्रगति विद्यापीठ परिसर पर टिक गई हैं, जहां 28 सितम्बर को प्रदेश कार्यसमिति बैठक का परम्परागत श्रीगणेश होगा। इस बैठक में प्रदेश में संगठन के विस्तार और जनोन्मुखी योजनाओं, गरीब कल्याण अभियान को जनांदोलन बनाने का रोडमेप तैयार किया जाएगा।

ये मंत्री दो दिन रहेंगे शहर में

जानकारी के अनुसार केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, केन्द्रीय सामाजिक न्याय मंत्री थावरचंद गहलोत, केन्द्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते, प्रदेश के जल संसाधन मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया, नगरीय विकास मंत्री माया सिंह, उच्च शिक्षा मंत्री जयभान सिंह पवैया, वन मंत्री गौरीशंकर शेजवार, ग्रामीण विकास मंत्री गोपाल भार्गव, राजस्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता, कृषि मंत्री गौरीशंकर बिसेन, गृह मंत्री भूपेन्द्र सिंह, लोक निर्माण मंत्री रामपाल सिंह, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री कुसुम महदेले, महिला बाल विकास मंत्री अर्चना चिटनिस, पशुपालन मंत्री अंतरसिंह आर्य, ऊर्जा मंत्री पारस जैन, स्वास्थ्य मंत्री रुस्तम सिंह, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री ओमप्रकाश धुर्वे, सामान्य प्रशासन राज्य मंत्री लालसिंह आर्य, पर्यटन राज्य मंत्री सुरेन्द्र पटवा, स्कूल शिक्षा मंत्री दीपक जोशी, आदिम जाति कल्याण मंत्री ज्ञानसिंह, चिकित्सा शिक्षा राज्यमंत्री शरद जैन, सहकारिता राज्यमंत्री विश्वास सारंग, उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण मंत्री सूर्यप्रकाश मीणा, पूर्व मुख्यमंत्री कैलाश जोशी एवं बाबूलाल गौर सहित विभिन्न निगम व मंडलों के अध्यक्ष भी ग्वालियर प्रवास पर रहेंगे।

स्वागत की तैयारियों को लेकर हुई बैठक
प्रदेश कार्यसमिति बैठक में भाग लेने आ रहे राजनेताओं एवं मंत्रियों सहित भाजपा परिवार के सभी सदस्यों का आत्मीय अभिनंदन ग्वालियर के कार्यकर्ताओं द्वारा किया जाएगा। इसकी तैयारियों को लेकर मंगलवार को भाजपा जिलाध्यक्ष देवेश शर्मा ने संभागीय कार्यालय 38, रेसकोर्स रोड पर अभिनंदन समिति की बैठक ली। बैठक में श्री शर्मा ने बताया कि पार्टी ने अतिथियों के सत्कार की यादगार रहने वाली व्यवस्थाएं की हैं। प्रदेश कार्यसमिति बैठक में आने वाले सभी सदस्यों का उनके आवास स्थल पर जाकर अभिनंदन समिति के सदस्य ग्वालियर की आत्मीय स्वागत परम्परा के तहत अभिनंदन करेंगे। बैठक में भाजपा के संभागीय संगठन मंत्री प्रदीप जोशी, राज चड्ढा, ब्रजेन्द्र सिंह जादौन सहित अभिनंदन समिति के प्रभारी, सह प्रभारी एवं सदस्य उपस्थित थे।

शताब्दी एक्सप्रेस से आएंगे सहस्त्रबुद्धे
भाजपा के मध्यप्रदेश प्रभारी एवं राष्ट्रीय उपाध्यक्ष विनय सहस्त्रबुद्धे 28 सितम्बर बुधवार को सुबह 9.30 बजे शताब्दी एक्सप्रेस से दिल्ली से ग्वालियर आएंगे। श्री सहस्त्रबुद्धे ग्वालियर आगमन के पश्चात अन्य वरिष्ठ नेताओं के साथ दौलतगंज स्थित रामनारायण धर्मशाला पहुंचेंगे, जहां सभी वरिष्ठ नेतागण एकात्म मानववाद के प्रणेता पं. दीनदयाल जी उपाध्याय को श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे। यहां उल्लेखनीय है कि पं. दीनदयाल जी उपाध्याय ने भारत की सनातन विचारधारा को युगानुकूल रूप में प्रस्तुत करते हुए भारत को एकात्म मानववाद की जो प्रगतिशील विचारधारा दी, उसकी शुरुआत इसी धर्मशाला में हुई थी। पं. दीनदयाल जी ने सन 1964 में 13 अपै्रल को इस धर्मशाला में आयोजित जनसंघ के एक कार्यक्रम में एकात्म मानववाद का पहला प्रारूप प्रस्तुत किया था।

Updated : 2016-09-28T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top