Top
Home > Archived > अब पासपोर्ट बनने के बाद कराना होगा पुलिस सत्यापन

अब पासपोर्ट बनने के बाद कराना होगा पुलिस सत्यापन

अब पासपोर्ट बनने के बाद कराना होगा पुलिस सत्यापन

ग्वालियर में जल्द शुरू होगी योजना

आवेदकों को मिलेगी राहत, आधार कार्ड से लिंक कराना जरूरी


ग्वालियर। अभी तक पासपोर्ट बनवाने के लिए शहर के लेागों को एक लंबी और कठिन प्रक्रिया का सामना करना पड़ता था, इसमें भी सबसे अधिक दिक्कत पुलिस वेरीफिकेशन कराने मेें आती थी। अभी हाल ही में विभाग ने अपने नियमों में कुछ बदलाव किए हैं। इसमें पासपोर्ट बनने के बाद आवेदक को पुलिस वेरीफिकेशन कराना होगा। इसके लिए पासपोर्ट सेवा केन्द्र का आधार कार्ड प्रोजेक्ट से लिंक होना जरूरी होगा।

उल्लेखनीय है कि ग्वालियर स्थित पासपोर्ट सेवा केन्द्र में बड़ी संख्या में पासपोर्ट के लिए आवेदन आते हैं,लेकिन पुलिस वेरीफिकेशन कराने के समय उन्हें भारी परेशानी का सामना करना पड़ता है।

आसान हो जाएगा पासपोर्ट बनवाना
इस नई योजना के बाद जिले के लोगों के लिए पासपोर्ट बनवाना बहुत आसान हो जाएगा। अब तक सबसे बड़ी समस्या यही आती थी कि आवेदक पासपोर्ट सेवा केन्द्र में पुलिस वेरीफिकेशन के लिए परेशान होता था,कई बार संबंधित थाने का अधिकारी निवास पर पहुंचता था तो आसपास के लोग सही जानकारी भी नहीं देते थे। ऐसे में मामला अधर में लटक जाता था। कई बार तो आपराधिक पृष्टभूमि के लोगों के पासपोर्ट भी इसी आपाधापी में बन जाते थे।
आधार होना जरूरी

इस योजना में पासपोर्ट विभाग ने भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण से सहयोग लिया है। इसमें आधार कार्ड सभी पासपोर्ट सेवा केन्द्र से लिंक होंगे।
पासपोर्ट बनने के बाद आवदेक का आधार थाने से लिंक होगा। इंदरगंज थाने के प्रेमनाथ वर्मा ने जानकारी दी कि पूरी तरह जांच पड़ताल के बाद थाने से पुलिस अधिकारी निवास पर जाकर आवदेक के चरित्र का सत्यापन करेगा उसके बाद बने हुए पासपोर्ट का नंबर थाने के पासपोर्ट रजिस्टर में दर्ज होगा।

जिले से हर माह बन रहे हैं 646 पासपोर्ट
हुजरात थाना परिसर स्थित पासपोर्ट सेवा केन्द्र से मिली जानकारी के अनुसार प्रत्येक माह लगभग डेढ़ हजार आवेदन आते हैं इसमें पूरी जांच पड़ताल के बाद 646 पासपोर्ट ही बन पाते हैं। शेष आवदेन पुलिस वेरीफिकेशन में रद्द् हो जाते हैं। अब चूंकि पासपोर्ट का लिंक आधार से जोड़ा जा रहा है तो आवेदकों को ज्यादा परेशानी नहीं होगी। अभी दिल्ली,मुंबई और अन्य बड़े शहरों में इस सेवा की शुरूआत हो गई है। बहुत जल्द प्रदेश के ग्वालियर समेत अन्य जिलों में ये शुरू हो जाएगा।

Updated : 2016-07-09T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top