Top
Home > Archived > दयाशंकर की गिरफ्तारी को यूपी एसटीएफ ने बनाई तीन टीमें

दयाशंकर की गिरफ्तारी को यूपी एसटीएफ ने बनाई तीन टीमें

दयाशंकर की गिरफ्तारी को यूपी एसटीएफ ने बनाई तीन टीमें
X

दयाशंकर की गिरफ्तारी को यूपी एसटीएफ ने बनाई तीन टीमें


लखनऊ। बसपा सुप्रीमो मायावती पर अभद्र टिप्पणी करके फंसे दयाशंकर सिंह की गिरफ्तारी के लिये यूपी एसटीएफ (स्पेशल टास्क फोर्स) ने प्रयास तेज कर दिए हैं। पुलिस मुख्यालय से मिले निर्देश के बाद से एसटीएफ ने पूर्व भाजपा नेता की गिरफ्तारी के लिए तीन टीमें बनाई है।

उत्तर प्रदेश के स्पेशल टास्क फोर्स के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अमित पाठक ने हिन्दुस्थान समाचार को बताया कि दयाशंकर सिंह की गिरफ्तारी के लिये तीन टीमें बनायी गयी है। पुलिस मुख्यालय से मिले निर्देश पर टीमें बनाकर सक्रिय कर दी गयी है। प्रदेश और इसके बाहर एसटीएफ की टीमें अपनी नजर बनाये हुये है। उन्होंने बताया कि सूचना संकलन में एसटीएफ लगी हुई है। सूचना संकलन के माध्यम से ही कोई कामयाबी मिलेगी। टास्क फोर्स के लिये सटीक सूचना कारगर ​होगी। टीमों को सटीक सूचना का इंतजार है। सटीक सूचना पर तत्काल कार्यवाही करेंगे। हमारा लक्ष्य दयाशंकर को पकड़ना है। एसटीएफ का हर अधिकारी परिपूर्ण है और टीमों को नेतृत्व सही ढ़ंग से ​हो रहा है।

गौरतलब हो कि भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष दयाशंकर सिंह ने पिछले दिनों बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती पर अभद्र टिप्पणी कर दी थी। इसके बाद बसपा नेताओं ने हजरतगंज थाने में दयाशंकर के खिलाफ एफआईआर दर्ज करायी।

मामले की विवेचना कर रहे क्षेत्राधिकारी हजरतगंज अशोक कुमार की रिपोर्ट पर न्यायालय ने कुर्की व गैरजमानती वारंट के आदेश दे दिये। इसके बाद उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक कार्यालय से जोन स्तर पर पुलिस को दयाशंकर की गिरफ्तारी के निर्देश दिये गये। इस बीच भाजपा से निष्कासित हुये दयाशंकर सिंह झारखण्ड व बिहार की सीमा पर देवघर मंदिर के बाहर एक फोटो में दिखाई दिए। इसके बाद दयाशंकर सिंह की गिरफ्तारी के लिये स्पेशल टास्क फोर्स को लगा दिया गया।

Updated : 2016-07-29T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top