Top
Home > Archived > सावरकर सरोवर में फिर से चलेगी नाव

सावरकर सरोवर में फिर से चलेगी नाव

महापौर परिषद ने लिया निर्णय

ग्वालियर, वरिष्ठ संवाददाता। सावरकर सरोवर में नौकायन बंद किए जाने को लेकर पिछले कुछ दिनों से चले आ रहे विवाद का आज लगभग पटाक्षेप हो गया। महापौर परिषद ने फिर से सरोवर में नाव चलाने का निर्णय आज आयोजित बैठक के दौरान लिया। इसके साथ ही महापौर विवेक शेजवलकर की अध्यक्षता में आयोजित की इस बैठक में विभिन्न बिन्दुओं पर चर्चा कर आवश्यक निर्णय लिए गए।

बैठक में मुख्य रूप से सावरकर सरोवर में नौकायन के संबंध में निगमायुक्त द्वारा प्रस्ताव रखा गया जिसे चर्चा के बाद स्वीकृत कर दिया गया। इसी के साथ बैठक में निगम में सीधी भर्ती पर भी चर्चा की गई।

बैठक में निगम में सीधी भर्ती के रिक्त पदों पर चयन हेतु पदों की प्राथमिकता तय करते हुए संचालनालय के माध्यम से व्यावसायिक परीक्षा मंडल को चयन की कार्रवाई हेतु प्रस्ताव भेजने संबंधी निगमायुक्त के प्रस्ताव पर चर्चा के उपरांत निर्णय लिया गया कि पहले यह तय किया जाए कि किन पदों पर प्राथमिकता के आधार पर कर्मचारियों की आवश्यकता है तथा इस प्रकार से भर्ती का कोई नियम निकाला जाए, जिससे शासन के नियमों की अवहेलना न हो तथा निगम में कार्यरत दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों को ध्यान में रखा जाए। इसमें निगम स्वयं शासन से अनुमति प्राप्त कर भर्ती की प्रक्रिया कर सकती है या फिर व्यावसायिक मंडल से चर्चा की जाए कि निगम में वर्तमान में कार्यरत अस्थाई कर्मचारियों को किस प्रकार ध्यान में रखकर भर्ती की जा सकती है, जिससे निगम में वर्षों से कार्यरत कर्मचारियों को निगम की भर्ती प्रक्रिया में लाभ मिल सके। बैठक में मेडीकल चौराहा स्थित पगोडा रेस्टोरेंट के संबंध में प्राप्त निगमायुक्त का प्रस्ताव स्वीकृत किया गया। मेयर-इन-काउंसिल की बैठक में निगमायुक्त द्वारा प्रस्ताव रखा गया कि शहर में 25 सीट की क्षमता वाले जितने रेस्टोरेंट, होटल अथवा अन्य संस्थान हैं, जहां एक साथ इतने लोग बैठकर प्रतिदिन भोजन करते हों तथा वह संस्थान किचन बेस्ड हो यहां से निकलने वाले गीले कचरे का निष्पादन स्वयं उनके द्वारा ही अत्याधुनिक तरीके से किया जाए, इसके लिए सभी को जानकारी प्रदान कर समय दिया जाएगा

यदि इसके बाद भी वह नहीं करते हैं तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी, बैठक में यह प्रस्ताव स्वीकृत किया गया।

यह निर्णय भी हुए
*बारिश से पूर्व शहर में स्थापित समस्त शासकीय भवनों पर निगम द्वारा रेन वाटर हार्वेस्टिंग की जाएगी।
*समाचार पत्र सप्लाई को लेकर ई टेन्डर बुलाने का निर्णय लिया गया।
खेल अधिकारी द्वारा गंभीर अनियमितता के संबंध में प्राप्त प्रस्ताव स्वीकृत किया गया।
*बैठक में गंगाराम बघेल, श्रीमती खुशबू गुप्ता, श्रीमती शोभा सिकरवार, धर्मेन्द्र राणा, श्रीमती नीलिमा शिन्दे, श्रीमती मीना शिवराम जाटव, केशव *सिंह, धर्मेन्द्र सिंह, अपर आयक्त एम.एल. दौलतानी आदि उपस्थित थे।

Updated : 2016-06-08T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top