Top
Home > Archived > सौर ऊर्जा से चलेगा कूलर, देगा एसी जैसी ठंडक

सौर ऊर्जा से चलेगा कूलर, देगा एसी जैसी ठंडक

आईटीएम के छात्रों ने बनाया बहुआयामी कूलर

ग्वालियर| यदि आप प्रचंड गर्मी से परेशान हैं तो घबराने की जरूरत नहीं। आईटीएम ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस के छात्रों ने इसका तोड़ निकाल लिया है। आईटीएम के छात्रों ने अपने इनोवेटिव आइडिया से एक ऐसा ठंडक देने वाला कूलर तैयार किया है, जो सौर ऊर्जा से चलेगा और एसी जैसी ठंडक भी देगा।

आईटीएम गु्रप ऑफ इंस्टीट्यूशंस के इलेक्ट्रिोनिक एण्ड इलेक्ट्रिक ब्रांच के फाइनल ईयर के छात्र शुभम गोयनार, सुनील पाटिल, मनोज सेन, हिमांशु यादव, गौरव दीक्षित ने यह कूलर बनाया है। छात्रों के अनुसार यह एक बहुआयामी कूलर है, जो बहुत सी सुविधाएं प्रदान करता है। इस कूलर की सबसे खास बात यह है कि यह बिजली की बजाय सौर ऊर्जा से चलता है, जिससे विद्युत की बचत होती है। सौर ऊर्जा से चलने वाला ये कूलर दिखने में साधारण कूलर की तरह ही है, जिसमें 12 वॉल्ट, 3 एम्पियर की डीसी मोटर एवं पम्प का उपयोग किया गया है। इसमें 100 वाट के सोलर पैनल और 12 वॉल्ट, 60 एम्पियर की बैटरी का उपयोग किया गया है, जिससे सौर ऊर्जा को सीधे ही विद्युत ऊर्जा में परिवर्तित किया जाता है। इसमें एक चार्जिंग कंट्रोलर लगा होता है, जो बैटरी को ओवेरचार्ज होने से रोकता है और बैटरी की लाइफ को बढ़ा देता है।

ग्रामीण क्षेत्रों के लिए है बहुत उपयोगी
देश भर में लाखों गांव आज भी ऐसे हैं, जो बिजली की सुविधा से वंचित हैं। ऐसे समय में सौर ऊर्जा से चलने वाले यह कूलर गांवों के लिए बहुत ही लाभदायक और आरामदायक सिद्ध हो सकता है। छात्रों के अनुसार इस सोलर कूलर की गति को रिमोट के जरिए कंट्रोल किया जा सकता है। वाटर लेवल इंडिकेटर लगाकर इस कूलर में पानी कम होने एवं पानी से भरने के बाद बंद करने के सिग्नल भी प्राप्त किए जा सकते हैं, जिससे इसकी उपयोगिता कई गुना बढ़ाई जा सकती है।

Updated : 2016-06-16T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top