Top
Home > Archived > सावरकर सरोवर में नहीं चल सकेगी दिसम्बर तक नाव!

सावरकर सरोवर में नहीं चल सकेगी दिसम्बर तक नाव!

सावरकर सरोवर में नहीं चल सकेगी दिसम्बर तक नाव!

ग्वालियर, वरिष्ठ संवाददाता। निगमायुक्त द्वारा सावरकर सरोवर में ठेके पर नौकायन के प्रस्ताव पर भले ही महापौर परिषद ने अपनी स्वीकृति की मुहर लगा दी हो लेकिन जो हालात हैं उन्हें देखते हुए आगामी दिसम्बर माह तक यहां नौकायन शुरू होना संभव नहीं है। उल्लेखनीय है कि बीती 14 फरवरी से सावरकर सरोवर में नौकायन शुरू किया गया था। लेकिन एक जून को अचानक ही नगर निगम ने यहां बोटिंग बंद कराते हुए सरोवर से नाव उठवा लीं। वहीं तिघरा का पानी कनेक्शन भी कटवा दिया गया। इस मामले ने तूल पकड़ते हुए जन आंदोलन का रूप ले लिया। इसके बाद मंगलवार को आयोजित महापौर परिषद की बैठक में निगमायुक्त की ओर से सरोवर में ठेके पर नाव चलाने के लिए आए प्रस्ताव को हरीझण्डी दे दी गई। लेकिन इसमें अब भी कई पेंच हैं।

बारिश के मौसम में नहीं चल सकती नाव:- लगभग 15 दिन बाद बारिश का मौसम शुरू हो जाएगा। खतरे को देखते हुए इस दौरान सितम्बर माह तक नौकायन नहीं कराया जा सकता। उल्लेखनीय है कि इससे पहले बोट क्लब में भी बारिश के दिनों में नौकायन बंद कर दिया जाता था।

नहीं निपट सकेगी ठेके की प्रक्रिया

चूंकि इस बार सावरकर सरोवर में नौकायन ठेके पर होना है इसके चलते इस प्रक्रिया में काफी समय लगने की उम्मीद है। पहले तो इसके लिए सूचना जारी होगी। इसके बाद निविदाएं बुलाईं जाएंगी तब कहीं ठेका हो सकेगा। सूत्रों की मानें तो इस प्रक्रिया में ही लगभग तीन से चार माह का समय लग सकता है। जिसके चलते यह लगभग तय है कि अगले छह माह तक सरोवर में नाव चलना मुश्किल है। कुल मिलाकर यह कहा जा सकता है कि फिलहाल शहरवासिययों को सावरकर सरोवर(कटोराताल) में नौकायन के लिए लम्बा इंतजार करना पड़ सकता है।

Updated : 2016-06-10T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top