Top
Home > Archived > सीबीआई के समक्ष पेश हुए हरीश रावत, हुई पूछताछ

सीबीआई के समक्ष पेश हुए हरीश रावत, हुई पूछताछ

सीबीआई के समक्ष पेश हुए हरीश रावत, हुई पूछताछ
X

सीबीआई के समक्ष पेश हुए हरीश रावत, हुई पूछताछ


देहरादून| स्टिंग आपरेशन केस में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत सीबीआई के सामने पेश होने के लिए जांच एजेंसी के मुख्यालय पहुंचे। जानकारी के अनुसार, सीबीआई ने रावत से जुड़े स्टिंग ऑपरेशन की जांच के सिलसिले में मंगलवार को उनसे पूछताछ की। रावत कुछ समर्थकों और एक विधायक के साथ आज पूर्वाह्न 11 बजे सीबीआई मुख्यालय पहुंचे। रावत दो दिन के प्रवास पर सोमवार को नई दिल्ली पहुंचे।

हालांकि, रावत का कहना है इस मामले में मैं पीड़ित हूं। आज सीबीआई मुख्यालय के लिए निकलते वक्त रावत ने कहा कि मैंने सिर्फ यह स्वीकार किया है कि मैं उस शख्स से सिर्फ मिला था जो पत्रकार के संपर्क में था। इसलिए इस मामले में पीड़ित मैं हूं और वो शख्स आरोपी है। इसके अलवा मुझे जो भी कहना है मैं सीबीआई को बताऊंगा। उत्तराखंड उच्च न्यायालय की ओर से स्टिंग सीडी प्रकरण की सीबीआई जांच पर रोक लगाने से इंकार करने के बाद मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा था कि वह सीबीआई के बुलावे पर दिल्ली जाएंगे और जांच में पूरा सहयोग देंगे।

सीबीआई ने पिछले सप्ताह राज्य सरकार की उस अधिसूचना को खारिज कर दिया था जिसमें उसने राष्ट्रपति शासन के दौरान मामले की जांच को दी गई मंजूरी वापस लेने की बात कही थी। उत्तराखंड उच्च न्यायालय ने भी सीबीआई जांच पर रोक नहीं लगाई। रावत ने सीबीआई जांच पर रोक लगाने का अनुरोध किया था। सीबीआई ने कहा था कि कानूनी सलाह लेने के बाद अधिसूचना को खारिज कर दिया गया। इस सलाह में कहा गया कि मंजूरी को वापस लेने का कोई आधार नहीं है और यह ‘कानूनी तौर पर मान्य’ नहीं है।
सीबीआई ने ‘स्टिंग ऑपरेशन’ की जांच के लिए 29 अप्रैल को प्रारंभिक जांच दर्ज की थी। इस स्टिंग ऑपरेशन में रावत बागी कांग्रेसी विधायकों को कथित रूप से रिश्वत की पेशकश करते दिखाए गए हैं, ताकि वे विधायक उत्तराखंड विधानसभा में शक्ति परीक्षण के दौरान उनका समर्थन करें।

बता दें कि राज्य में सियासी संकट के दौरान 26 मार्च को पूर्व मंत्री हरक सिंह रावत ने दिल्ली में मीडिया को स्टिंग की सीडी जारी की थी। इस स्टिंग में विधायकों की खरीद फरोख्त को लेकर बातचीत का मामला दिखाया गया है। मुख्यमंत्री हरीश रावत ने सीबीआई से दिल्ली की बजाय देहरादून आकर पूछताछ करने का अनुरोध किया था। पर सीबीआई ने उनके अनुरोध को नहीं माना।

Updated : 2016-05-24T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top