Top
Home > Archived > सोना पांच और चांदी आठ हजार रुपए हुई महंगी

सोना पांच और चांदी आठ हजार रुपए हुई महंगी

सोना पांच और चांदी आठ हजार रुपए हुई महंगी
X

फिलहाल कम नहीं होंगे सोने व चांदी के दाम

ग्वालियर। दिसम्बर और जनवरी माह में सोने व चांदी के दाम कम थे। यह लोगों के बजट में आ रहे थे, लेकिन कुछ ही माह के उपरांत सोना 5000 और चांदी 8000 रुपए तक महंगी हो गई। दामों में तेजी आने के कारण लोगों ने इससे अब दूरी बनाना शुरू कर दिया है। इस वजह से सराफा बाजार की दुकानों पर खरीदारों की भीड़ भी कम देखने को मिल रही है। सराफा कारोबारियों का कहना है कि फिलहाल सोने व चांदी के दामों में कमी आने की कोई गुंजाइश नहीं है। इसके दामों में तेजी ही देखने को मिलेगी।

उल्लेखनीय है कि दिसम्बर 2015 में सोना 25500 रुपए प्रति दस ग्राम था, जो पांच माह में पांच हजार रुपए की तेजी के साथ अब 30000 रुपए से ऊपर पहुंच गया है। वहीं चांदी भी दिसम्बर माह में 33400 रुपए प्रति किलो थी, जो 8000 रुपए की तेजी के साथ 41000 रुपए प्रति किलो पर पहुंच गई है।
सहालग खत्म होने के बाद भी कम नहीं हो रहे दाम

विशेषज्ञों का कहना है कि सहालगी सीजन में सोने में अधिक खरीदारी होती है, लेकिन सहालगी सीजन फिलहाल समाप्त हो गया है। बावजूद इसके सोने और चांदी के दाम कम नहीं हो रहे हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि सोने और चांदी पर सटोरिये हावी हैं, जिससे वह मुनाफा वसूली के कारण इसके दामों को कम नहीं होने दे रहे हैं। वहीं विशेषज्ञ सोने और चांदी में आई तेजी को 41 दिनों की अनिश्चितकालीन हड़ताल से भी जोड़कर देख रहे हैं।

सोने और चांदी का बढ़ता हुआ भाव
समय सोना चांदी
30 दिसम्बर 2015 25500 33400
28 जनवरी 2016 27200 34600
10 फरवरी 2016 28400 36500
12 फरवरी 2016 29300 37500
21 अप्रैल 2016 30100 41200
08 मई 2016 30350 41200

महंगे सोने को सस्ते दामों पर खरीद रहे हैं
सराफा बाजार की हालत इस समय बहुत ही खराब है। सराफा व्यापारी जहां सोने को महंगे दामों पर बेच रहे हैं, वहीं इसी सोने को एमसीएक्स (मल्टीकमोडिटी एक्सचेंज) का हवाला देते हुए लोगों से सस्ते दामों पर खरीद रहे हैं।

एमसीएक्स से 500 से 1000 रुपए नीचे का भाव है
इस समय एमसीएक्स में सोने का भाव 30 हजार रुपए चल रहा है। मान लीजिए आपने 30 हजार रुपए का दस ग्राम सोना खरीदा है। अगर आप इसे बाजार में पुन: बेचने जाते हैं तो इसके आपको 29000 रुपए ही मिलेंगे क्योंकि एमसीएक्स सोने के बढ़े दामों को ग्राहकों से कम दामों पर खरीद रहा है।

निवेश के लिए उचित समय अभी नहीं
विशेषज्ञों का कहना है कि सोने व चांदी में निवेश की दृष्टि से वर्तमान समय कतईं उचित नहीं है। विशेषज्ञों का कहना है कि बरसात व दीपावली के पहले इसमें निवेश कर सकते हैं।

भाव में तेजी आने का कारण

*शेयर बाजार और डॉलर की स्थिति खराब होने के कारण अधिकतर लोग सोने व चांदी में निवेश कर रहे हैं, जिससे इसके दामों में तेजी आ रही है।
*हड़ताल के दौरान हुए नुकसान की भरपाई न होने के कारण भी इन दोनों कीमती धातुओं में तेजी व्याप्त है।
*सटोरियों की लाभ वाली मनोवृत्ति।

Updated : 2016-05-12T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top