Top
Home > Archived > त्र्यंबकेश्वर मंदिर में महिलाओं को जाने से रोका

त्र्यंबकेश्वर मंदिर में महिलाओं को जाने से रोका

त्र्यंबकेश्वर मंदिर में महिलाओं को जाने से रोका

त्र्यंबकेश्वर मंदिर में महिलाओं को जाने से रोका

नासिक | भूमाता ब्रिगेड द्वारा महाराष्ट्र के शनि शिंगणापुर में शनि मंदिर के दर्शन के लिए महिलाओं को प्रवेश करने का दबाव बनाया गया। जिसके बाद शनि मंदिर में महिलाओं और पुरूषों को समानता से प्रवेश दे दिया गया। ऐसे ही हालात नासिक के श्री त्र्यंबकेश्वर मंदिर में महिलाओं के प्रवेश को लेकर बने। दरअसल बुधवार सुबह पूजा करने जा रही स्वराज महिला संगठन की महिलाओं को गर्भगृह में प्रवेश नहीं दिया गया।

महिलाओं को रोके जाने के पीछे कहा गया कि उन्होंने जो परिधान पहने थे वे मंदिर में प्रवेश को लेकर बनाए गए ड्रेस कोड के अंतर्गत नहीं थे, जिसके कारण उन्हें मंदिर के गर्भगृह में प्रवेश नहीं दिया जा सकता। मंदिर प्रबंधन और क्षेत्र की ग्रामीण महिलाओं ने इस मामले में विरोध का रूख अपनाने वाली स्वराज महिला संगठन कार्यकर्ताओं का विरोध किया था। विरोध करने वाली ग्रामीण महिलाओं ने महिला कार्यकर्ताओं को मंदिर में जाने से भी रोक दिया।

उल्लेखनीय है कि स्वराज महिला संगठन की महिला कार्यकर्ताओं ने श्री त्र्यंबकेश्वर मंदिर में पूजा की अनुमति भी मांगी थी। जिसके बाद मंदिर प्रशासन की ओर से महिलाओं को पूजन हेतु प्रातः 6 बजे से 7 बजे के बीच का समय दिया था। मगर जब कार्यकर्ता अंदर पहुंचे तो उन्हें अनुमति नहीं दी गई।

Updated : 2016-04-20T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top