Home > Archived > इंजीनियरिंग छात्रा ने फांसी लगाई

इंजीनियरिंग छात्रा ने फांसी लगाई

क्रिकेट मैच देखने के बाद सीधे चली गई थी कमरे में

ग्वालियर। विश्वविद्यालय थाना क्षेत्र में इंजीनियर की छात्रा ने फांसी लागकर आत्महत्या कर ली। आत्महत्या के कारणों का फिलहाल पता नही चल सका है, लेकिन मृतका क्रिकेट मैच देखने के बाद कमरे में चली गई थी। पुलिस ने घटना स्थल का मौका मुआयना करने के बाद मर्ग कायम कर विवेचना प्रारंभ कर दी है।


होटल सीता मैनोर के पीछे बने बालाजी इन्कलेव में रहने वाले योगेश कम्ठान सहायक आबकारी अधिकारी हंै। योगेश की बेटी सुरभि उम्र 25 वर्ष एमआईटीएस में इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रही थी। बीती रात को किक्रेट का मैच देखने के बाद सुरभि अपने कमरे में चली गई और जब काफी देर के बाद भी उसके कमरे में कोई हलचल नही हुई तो परिजनों ने कमरे में झांककर देखा तो दंग रह गए। सुरभि का शव फांसी के फंदे पर लटका हुआ था। सुरभि ने अपने दुपट्टे से फांसी लगाकर आत्महत्या की थी, सूचना मिलते ही पुलिस घटना स्थल पर पहुंच गई। सुरभि ने अचानक फांसी क्यों लगाई फिलहाल कारणों का पता नही चल सका है।

लेकिन सूत्र बताते हैं कि सुरभि को किक्रेट का मैच देखना पंसद था संभवत: उसने भारत की हार से दुखी होकर यह कदम उठाया होगा। पुलिस को कमरे से कोई सुसाइड नोट आदि भी नहीं मिला है, पुलिस ने मर्ग कायम कर विवेचना प्रारंभकर दी है।

भारत के जीतने पर प्रसाद चढ़ाने की कही थी बात
बताया गया है कि बीते रोज वेस्टइण्डीज से भारत का मैच होने पर सुरभि ने परिजनों से कहा था कि यदि भारत मैच जीतेगा तो वह 100 रुपए का प्रसाद चढ़ाएगी और हार जाने पर जान दे दगी। पुलिस मामले की पड़ताल कर रही है।

इन्होंने कहा
छात्रा ने अपने कमरे में फांसी लागकर आत्महत्या कर ली है। पुलिस मामले की तहकीकात करने के बाद ही कारणों का खुलासा कर सकेगी।

आरएस मालवीय
थाना प्रभारी विश्वविद्यालय

Updated : 2016-04-02T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top