Latest News
Home > Archived > भारत में असहिष्णुता का कोई माहौल नहीं : अरूण जेटली

भारत में असहिष्णुता का कोई माहौल नहीं : अरूण जेटली

भारत में असहिष्णुता का कोई माहौल नहीं : अरूण जेटली
X

भारत में असहिष्णुता का कोई माहौल नहीं : अरूण जेटली

वाशिंगटन | केंद्रीय वित्त मंत्री अरूण जेटली ने कहा है कि भारत में अलग अलग राजनीतिक दल के लोगों के गैर जिम्मेदाराना बयान देने जैसी ‘छिटपुट’ घटनाएं हो सकती हैं लेकिन इसे देश में असहिष्णुता के माहौल के तौर पर नहीं देखा जाना चाहिए। वरिष्ठ भाजपा नेता ने इस तरह की घटनाओं को ‘बहुत खराब’ बताया लेकिन कहा कि भारत जैसे बड़े देश में ये ‘बहुत कम’ होती हैं।

उन्होंने एक गोलमेज सम्मेलन में कहा, ‘अलग-अलग राजनीतिक दल के लोगों के गैर जिम्मेदाराना बयान देने की छिटपुट घटनाएं हो सकती हैं लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि जमीन पर इस तरह की (असहिष्णुता) कोई ‘एक्टिविटी’ है।’ वित्त मंत्री ने कहा, ‘ये खराब घटनाएं हैं। ये बहुत ही खराब घटनाएं हैं लेकिन एक बड़े देश में ऐसा बहुत ही कम होता है। पूर्व में भी ऐसी छिटपुट घटनाएं होती रही हैं।’ जेटली ने देश में असहिष्णुता के कथित माहौल से संबंधित सवाल का जवाब देते हुए कहा कि यह मीडिया की उपज है।

उन्होंने कहा, ‘जमीनी स्तर पर विषय को लेकर मेरी अपनी समझ यह है कि क्या ऐसी बहुत सारी चीजें हो रही हैं जिनसे यह (असहिष्णुता) दिखती है? जवाब ना में है।’ वित्त मंत्री ने कहा, ‘भारत जैसे बड़े देश में एक ही समय में कुछ घटनाएं हो सकती हैं जिन्हें बहुत ही अनुचित और निंदनीय समझा जा सकता है।’ यह पूछे जाने पर कि क्या भाजपा में किसी तरह का आत्मनिरीक्षण हो रहा है, उन्होंने कहा, ‘असल में ना तो पार्टी के एजेंडा में या जमीनी स्तर पर इस तरह की कोई गतिविधि है जिसमें भारत जैसे बड़े देश में राज्य दर राज्य यह (असहिष्णुता की घटनाएं) हो रहा है।’

जेटली ने कहा, ‘कोई समाचार चैनल चार लोगों को गैर जिम्मेदाराना बयान देते दिखाकर उसकी खबर बना सकता है। ऐसा लगता है कि यही हो रहा है। राजनीति में व्यापक रूप में ऐसा दिखाया जाता है, हमेशा ऐसे तीन या चार लोग होंगे जो घटनाओं को लेकर आक्रामक और असंगत तरीके से प्रतिक्रिया देंगे।’ उन्होंने कहा, ‘इसलिए जब टेलीविजन कैमरे से आपका सामना होता है, असभ्य टिप्पणी, असभ्य बयान, अनुचित बयान आते हैं, आप वह कहते हैं जो आपको नहीं कहना चाहिए, ऐसे चार, पांच, छह लोग हैं, उसको आप एन्वायरनमेंट ऑफ इनटोलरेंस (असहिष्णुता का माहौल) कह दो?’

Updated : 2016-04-16T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top